Isfurti Singh : कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर बढ़ती चिंता के बीच केंद्र ने भारत आने वाले इंटरनेशनल पैसेंजर्स के लिए नई गाइडलाइन जारी की है। इसके मुताबिक, अब एयर सुविधा पोर्टल पर मौजूद सेल्फ डेक्लेरेशन फॉर्म में सभी इंटरनेशनल पैसेंजर्स को फ्लाइट बोर्ड करने से पहले अपनी 14 दिन की ट्रैवल हिस्ट्री बतानी होगी।

एडवाइजरी में यह भी बताया गया है कि एट रिस्क देशों से आने वाले पैसेंजर्स के लिए देश के हर एयरपोर्ट पर अलग एरिया बनाया जाएगा, जहां वे RT-PCR टेस्ट के रिजल्ट के लिए इंतजार करेंगे। सभी एयरपोर्ट्स पर अतिरिक्त RT-PCR फेसिलिटी भी तैयार की जाएंगी। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन पर केंद्र सरकार ने बड़ी बैठक बुलाई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण आज राज्यों के साथ मीटिंग करेंगे। बैठक सुबह 10:30 बजे शुरू हो सकती है। इस दौरान ओमिक्रॉन को लेकर तैयारियों पर चर्चा होगी। साथ ही टेस्टिंग और ट्रैकिंग बढ़ाने पर जोर दिया जा सकता है। बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि पिछले 15 दिनों में अफ्रीकी देशों के 1 हजार पैसेंजर्स मुंबई पहुंचे हैं। इनमें से 466 लोगों की ही लिस्ट एयरपोर्ट अथॉरिटी से मिल पाई है। अब तक 100 लोगों का सैपंल लिया जा चुका है। BMC के अतिरिक्त नगर आयुक्त सुरेश काकानी ने न्यूज एजेंसी PTI को बताया कि एयरपोर्ट अथॉरिटी से अब तक सभी लोगों की लिस्ट नहीं मिली है, जिसके कारण टेस्ट में विलंब हो रहा है। 466 यात्रियों में से 100 मुंबई से हैं। हमने पहले ही उनके स्वाब के नमूने एकत्र कर लिए हैं। कल या परसों तक उनकी रिपोर्ट आने की उम्मीद है।