Marudhar Desk: उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई है। सभी राजनीतिक पार्टियां चुनावी प्रचार में लगी हुई है और अलग -अलग दांव चलकर जनता के वोट लुभाने के प्रयास में लगी हुई है। हालांकि, इसी कड़ी में सभी राजनेता एक – दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप भी कर रहे है। अब AIMIM पार्टी के प्रमुख और हैदराबाद से लोकसभा सांसद असद्दुदीन ओवैसी भी जुबानी हमले करते दिखाई दे रहे है। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक जनसभा रैली के दौरान ओवैसी ने पीएम मोदी और सीएम योगी पर खूब आग उगली। ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी के तीन यार है – ड्रामा, फसाद और अत्याचार और उत्तरप्रदेश में योगी ‘राज’ का मतलब – रिश्वत, आतंक, जातिवाद। ओवैसी का ये वीडियो सोसल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। ओवैसी ने इस जनसभा में हरिद्वार की धर्म संसद में हुई नफरतभरी बयानबाजी का भी मुद्दा उठाया और कहा कि यह धर्म संसद बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी के आशीर्वाद से हुई थी। उन्होंने सवाल उठाया कि जब देश में मुसलमानों के कत्ले आम की बात होती है तो कोई इसके खिलाफ आवाज नहीं उठाता है। उन्होंने कहा- यह वह भारत नहीं है, जिसको हमने अपने खून से आजाद किया था. भारत सबका है। लेकिन भाजपा इस मुल्क को सिर्फ एक मजहब से जोड़कर मानती है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही ओवैसी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ था। इस वीडियो में ओवैसी को कहते हुए देखा जा सकता है। हमेशा योगी मुख्यमंत्री नही रहेगा, हमेशा मोदी प्रधानमंत्री नही रहेगा। हालात बदलेंगे जब कौन बचाने आएगा। योगी अपने मठ में चले जाएंगे। ‘मोदी पहाड़ों में चले जाएंगे। उसके बाद क्या होगा, कौन बचाएगा?’ इस तरह की बात ओवैसी कह रहे हैं। वीडियो के इस हिस्से को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा था कि उन्होंने हिंदुओं को यह धमकी दी, जिसके बाद सोशल मीडिया पर ओवैसी को घेरा जाने लगा।