टेस्ट मैच में तीन साल बाद आमने-सामने होंगे भारत-न्यूज़ीलैंड…

0
30

मरुधर बुलेटिन न्यूज़ डेस्क। भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज़ शुरु होने जा रही है। इस सीरीज़ का पहला मुकाबला 21 फरवरी ,शुक्रवार को वेलिंग्टन में खेला जाएगा। दोनों टीमों के बीच इससे पहले पांच मैचों की टी-20 सीरीज और तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जा चुकी है। टी-20 सीरीज में भारतीय टीम ने 5-0 से जीत हासिल की थी और कीवी टीम का वाइट वॉश किया था। जबकि वनडे सीरीज में करारी हार का बदला लेने उतरी न्यूज़ीलैंड ने 3-0 से जीत दर्ज करते हुए भारतीय टीम का क्लीन स्वीप किया था। दोनों ही टीमों की नजरे इस टेस्ट सीरीज को जीतने पर होगीं। इससे पहले दोनों टीमों के बीच तीन साल पहले टेस्ट सीरीज खेली गई थी जिसमें भारतीय टीम ने 3-0 से कीवी टीम का क्लीन स्वीप किया था। टेस्ट मैच में दोनों टीमें तीन साल बाद आमने-सामने होंगी।

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच अबतक 20 टेस्ट सीरीज खेली गई है जिनमें से 11 बार टीम इंडिया ने जीत हासिल की है। जबकि 5 बार भारत को हार का सामना करना पडा है। चार सीरीज ड्रॉ रही है। भारतीय टीम ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ अबतक 57 टेस्ट मैच खेले हैं जिनमें 21 में जीत दर्ज की है। जबकि 10 मैच हारे है और 26 मैच ड्रॉ हुए है। वहीं न्यूज़ीलैंड की धरती पर भारत केवल 5 मुकाबले जीतने में कामयाब हो सका है। 8 में भारत को हार मिली, वहीं 10 मुकाबले ड्रॉ हुए है। शुक्रवार को होने जा रहे मैच में वेलिंग्टन में आसमान में बादल छाए रहेंगे। वहीं पिच से बल्लेबाजों को मदद मिलेगी। बात करें , भारतीय टीम के ओपनर की तो पृथ्वी शॉ एक साल बाद इस मैच से टेस्ट में वापसी कर सकते है। वे एक अभ्यास मैच में चोटिल हो गए थे जिसके बाद उन्होने घरेलू क्रिकेट से वापसी की थी। हालांकि पृथ्वी शॉ पर प्रतिबंधित दवाओं के सेवन को लेकर 8 महीने का प्रतिबंध भी लगा था। ओपनर के तौर पर टीम इंडिया में शुभमन गिल भी अपना डेब्यू कर सकते है। शुभमन ने केवल 2 वनडे खेले है। उम्मीद जताई जा रही है कि इस मैच से वे टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू कर सकते है।