जयपुर|Deepika Jangir: नवंबर महीने का आज आखिरी दिन है और लोगों को अभी सर्दी से राहत है लेकिन इसी बीच मौसम विभाग ने राजस्थान में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। आज उदयपुर, कोटा संभाग के जिलों में इसका असर दिखेगा। ऐसा अरब सागर में बने लो प्रेशर सिस्टम और उत्तरी भारत में आए पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण हो रहा है। एक दिसंबर से इन संभाग के जिलों में भारी बारिश का दौर शुरू होगा। अधिकांश शहरों में आज तापमान गिरा है, जिससे सर्दी बढ़ी है। राजस्थान में आज फतेहपुर शेखावाटी का एरिया सबसे ठंडा रहा, जहां न्यूनतम तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया।

लो प्रेशर सिस्टम के साथ-साथ वातावरण में नमी अच्छी है, जिसके कारण बारिश 2MM से 50MM के आसपास हो सकती है। उदयपुर, कोटा संभाग के जिलों में तेज बारिश की आशंका है। 4 दिसंबर से मौसम खुलने लगेगा और उसके बाद ठंड अपना तेवर दिखाएगा।जयपुर मौसम केन्द्र के मुताबिक, एक दिसंबर को उदयपुर, कोटा और जोधपुर संभाग के कुछ जिलों में बारिश होगी। उदयपुर संभाग के जिलों में तो भारी बारिश की आशंका है। करीब दो सप्ताह पहले 18, 19 नवंबर को उदयपुर, कोटा, भरतपुर संभाग में बारिश का दौर चला था। ठीक उसी तरह इस बार भी 1 से 3 दिसंबर तक मौसम का रुख रहेगा।

केंद्र के अनुसार इस मौसमी तंत्र के प्रभाव से एक दिसंबर को राजस्थान के जोधपुर,कोटा, उदयपुर संभाग में हल्के से मध्यम दर्जे की वर्षा होने की संभावना है। वहीं दो दिसंबर को राज्य के जोधपुर,कोटा, जयपुर, उदयपुर व अजमेर संभाग के जिलों में हल्के से मध्यम दर्जे की वर्षा तथा उदयपुर संभाग में एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा भी होने की संभावना है।

इसी तरह तीन दिसंबर को भी राज्य के कई हिस्सों कहीं-कहीं हल्की बारिश होने की संभावना है जबकि चार दिसंबर को एक बार पुनः राज्य में मौसम शुष्क होने की संभावना जताई गई है।वहीं, बीती सोमवार रात के न्यूनतम तापमान की बात की जाए तो यह चुरू में 6.0 डिग्री सेल्सियस, सीकर में 6.6 डिग्री, पिलानी में 7.6 डिग्री, संगरिया में 7.1 डिग्री व अलवर में 8.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।