Isfurti Singh- राजस्थान प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण और नए वेरिएंट ओमिक्रोंन की दस्तक के बाद राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन की पालना करवाने के लिए जहां जिला प्रशासन पूरी तरह हर संभव प्रयास कर रहा है वहीं करौली जिला अंतर्गत नगर पालिका सपोटरा में राशन डीलर खुलेआम कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते हुए नजर आ रहे हैं। ऐसा लगता है मानो राशन डीलर और उपभोक्ताओं को कोरोना से कोई डर नहीं लगता हो।
ऐसे में जब जिम्मेदार राशन डीलर ही सरकार द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन की खुलकर धज्जियां उड़ाते हो तो आखिर कैसे कोरोना पर नियंत्रण पाया जा सकेगा यह बड़ा सवाल है। राज सरकार द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन की पालना करवाने के लिए जहां जिले में जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन कोरोना जागरूकता फ्लैग मार्च निकाल कर आमजन को कोरोना से बचाव का संदेश दे रहा है वही उपखंड सपोटरा क्षेत्र में अभी भी आमजन,दुकानदार और राशन डीलर कोरोना के प्रति लापरवाह बने हुए हैं। जो बहुत ही चिंता का विषय है। जब हमारे संवाददाता ने उपखंड अधिकारी अनुज भारद्वाज से की तो उपखंड अधिकारी अनुज भारद्वाज ने तुरंत एक्शन लेते हुए सभी राशन डीलरों को उपखंड कार्यालय बुलाकर सरकार द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन की पालना करने के साथ उपभोक्ताओ से पालना करवाने और वैक्सीनेशन के प्रति लोगों को जागरूक करने के दिशा निर्देश दिए इसके साथ ही उपखंड अधिकारी अनुज भारद्वाज ने राशन डीलरों से कहा कि उपभोक्ता को राशन वितरण करते समय सभी सामाजिक दूरी बनाए रखें और चेहरे पर मास्क लगाना अनिवार्य है और जिस परिवार के सदस्यों के द्वारा वैक्सीन नहीं लगवाई गई है उन्हें दोनों वैक्सीन लगवाने के बाद ही राशन का वितरण करें।