नदी सूखी थी और बस में नही थी सवारी वरना होता ‘मेज नदी’ जैसा हादसा…

0
111
bus accident

मरुधर बुलेटिन न्यूज़ डेस्क। बूंदी में मेज नदी के पुल पर हुआ बस हादसा अभी तक कोई भुला भी नही पाया है कि बनाड़ के पास जोजरी नदी के पुल पर एक स्लीपर बस पलट गई और नदी में जा गिरी। गनीमत ये रही कि बस में यात्री सवार नही थे और नदी भी सूखी पड़ी थी। शुक्रवार सुबह जोधपुर से बनाड़ जा रही स्लीपर बस को डम्पर ने साइड से टक्कर मार दी। जिससे बस अनियंत्रित होकर बनाड़ रोड स्थित जोजरी नदी में जा गिरी। बस खाली थी जिस वजह से कोई बड़ा हादसा होने से टल गया। हालांकि नदी में बस पलट जाने से चालक को थोड़ी बहुत चोट आई है। लेकिन वह किसी तरह बस से बाहर निकलकर वहां से भाग निकला।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एक स्लीपर बस शुक्रवार सुबह के करीब डेढ़-दो बजे जोधपुर से बनाड़ जा रही थी। तभी जोजरी नदी के पुल पर पहुंचने के दौरान तेज गति से आ रहे डम्पर ने बस को साइट से टक्कर मार दी । डम्पर से बचने की कोशिश में बस चालक ने बस को साइड में लेने की कोशिश की जिससे बस अनियंत्रित होकर नदी में जा गिरी और पलट गई। जोजरी नदी का पुल संकरा और पुल की साइड में दीवार न होने के कारण बस नदी में पलट गई। किसी तरह से बस चालक ने अपनी जान बचाई और वह घटनास्थल से भाग निकला। बनाड़ पुलिस रात में गश्त के दौरान मौके पर पहुंची और बस को बाहर निकालने की कार्रवाई शुरु की। जैसे-तैसे हाइड्रा क्रेन की मदद से पुलिस ने शुक्रवार दोपहर बाद बस को नदी में से निकाला। नदी में पानी नही होने व बस में यात्रियों के न होने से बड़ा हादसा होते होते टल गया। पुलिस का कहना है कि जोजरी नदी का पुल शुरु होते ही सड़क संकरी हो जाती है जिस वजह से पहले भी कई हादसे हो चुके है। बनाड़ थाना पुलिस कई बार सार्वजनिक निर्माण विभाग को पत्र भेजकर पुल सही कराने के लिए आग्रह कर चुकी है लेकिन पुल जैसे का तैसा ही है।