प्रदेश की सरकार अब अस्थि विसर्जन के लिए चलाएगी निःशुल्क बसें, इस राज्य से बनी सहमति!

0
42
Bone Immersion

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए इस समय प्रदेश में लॉकडाउन का चौथा चरण चल रहा है जो 31 मई तक के लिए चलेगा। इसी बीच जिन लोगों का लॉकडाउन के बीच निधन हुआ था और उनके परिजन इस कारण अस्थिविसर्जन नहीं कर पाए थे। उनके लिए एक राहत भरी खबर आ रही है।

जानकारी के अनुसार प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाल ही में दिवंगत परिजनों की अस्थि विसर्जन की घोषणा के साथ ही कहा है कि दिवंगत आत्माओं की अस्थिविसर्जन करने के लिए उनके परिजनों के लिए निशुल्क विशेष बसें चलाई जाएंगी। जानकारी के अनुसार इन बसाें में अस्थि विसर्जन के लिए जाने वाले किसी भी परिवार के दो या तीन सदस्य निशुल्क यात्रा कर सकेंगे।

साथ ही शुक्रवार को हुई समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया कि राज्य सरकार के आग्रह के बाद उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों के आवागमन की सहमति दे दी है। इसी के साथ दिवंगत आत्माओं के परिजन अब आसानी से अस्थि विसर्जन कर सकेंगे। जल्द ही राजस्थान से हरिद्वार एवं अन्य अस्थि विसर्जन स्थलों के लिए रोज 4 या 5 बसें चलेंगी। साथ ही ये बसें जिला मुख्यालयों से चलेगी। गौरतलब है कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए परिवहन साधनों को पूर्णत बंद कर दिया गया था। लेकिन अब धीरे धीरे देश और राज्य की सरकारें वापिस इन सेवाओं को शुरू करती हुई नजर आ रही है। साथ ही बता दें कि प्रदेश में आज से फिर से सड़कों पर रोड़वेज की बसें सड़कों पर दौड़ती हुई नजर आएगी। हालांकि ये बसें अभी केवल 55 रूटों पर ही चलेगी।