करणू मामले में नागौर पहुंचे मंत्री मेघवाल ने गहलोत सरकार पर साधा निशाना…

0
152

मरुधर बुलेटिन न्यूज़ डेस्क। राजस्थान के नागौर जिले में दलित युवकों के साथ जघन्य अपराध कर वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड करने के मामले से सियासत गर्मा गई है। नागौर के करणू गांव में दलित युवकों के साथ हुए जघन्य अपराध के मामले को लेकर केंद्र सरकार व राज्य सरकार के मंत्री पीड़ितों के परिवार वालों से मिलने के लिए दौरा पर गए। इस मामले को लेकर गुरुवार को भी जयपुर से लेकर दिल्ली तक सियासी बयानबाजियों का दौर चला। मिली जानकारी के अनुसार केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल नागौर जाकर पीड़ितों से मुलाकात करने पहुंचे। मेघवाल के अलावा अन्य तीन मंत्रियों ने भी नागौर पहुंचकर मामले की जानकारी की।

केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल पीड़ित युवकों व उनके माता-पिता से मिलने शुक्रवार सुबह 9 बजे नागौर के करणू गांव पहुंचे। मेघवाल सहित रामगंज मंडी के विधायक मदन दिलावर , स्थानीय विधायक मोहनराम चौधरी व पूर्व पुलिस अधिकारी राजेन्द्र सिंह शेखावत सहित भाजपा के जिला अध्यक्ष रमाकांत शर्मा सहित अन्य कार्यकर्ता भी पहुंचे। केंद्रीय मंत्री मेघवाल ने कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होने कहा कि प्रदेश में दो गुट बन चुके है। एक मुख्यमंत्री का और दूसरा उप-मुख्यमंत्री का। जिस वजह से प्रदेश में अपराध बढ़ गए है। प्रदेश में कानून-व्यवस्था नाम की कोई चीज नही है। प्रदेश में महिलाओं ,अनुसूचित जाति या फिर बच्चों की बात हो सभी पर अत्याचार हो रहे है। मंत्री ने आगे कहा कि जबसे प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है तब से अपराध बहुत अधिक बढ़ गए है। इतनी शर्मसार घटना होने के बाद भी पुलिस कह रही है कि हमें तीन दिन बाद घटना की जानकारी कंट्रोल रुम से मिली। बता दें कि , करणू गांव में दो युवकों को बंधक बनाकर पीटने के मामले में पुलिस गंभीरता से जांच कर रही है। इसके अलावा पूरे मामले की जांच क्राइम ब्रांच की जघन्य अपराध ईकाई द्वारा मॉनिटरिंग की जाएगी। जांच अधिकारी मुकुल शर्मा ने बताया है कि मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने बुधवार को पांच व गुरुवार को दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।