अलवर के एक अस्पताल में असामान्य डिलीवरी का केस सामने आया है लक्ष्मणगढ़ निवासी एक प्रेग्नेंट महिला रीतू शर्मा ने 4 किलो 400 ग्राम वजनी बच्चे को जन्म दिया है। साहिल हॉस्पिटल की वरिष्ठ चिकित्सक गीता मलिक ने बताया कि यह असामान्य प्रसव का केस था। इसमें जच्चा और बच्चा दोनों की जान को खतरा हो सकता था। सामान्य तौर पर जन्म के समय बच्चे का वजन तीन किलो से अधिक नहीं रहता है। बच्चे का वजन ज्यादा होने के कारण डायबिटीज होने का भी खतरा बना रहता है। अस्पताल टीम द्वारा जच्चा और बच्चा दोनों को सुरक्षित तरीके से बचाया गया है।