Isfurti Singh – देश में 3 जनवरी से शुरू होने वाले 15 से 18 उम्र वालों के वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन शनिवार (1 जनवरी) से शुरू हो गया। कोविन ऐप के आंकड़ों के मुताबिक पहले दिन रात 11 बजे तक 3 लाख 15 हजार बच्चों ने वैक्सीनेशन के लिए स्लॉट की बुकिंग की है। बता दें कि देश भर में इस एज ग्रुप के करीब 10 करोड़ बच्चों को वैक्सीन दी जानी है।

10वीं का ID कार्ड भी रजिस्ट्रेशन के लिए मान्य
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 15-18 साल की उम्र के बच्चों को केवल भारत बायोटेक की कोवैक्सिन ही लगाई जाएगी। कोविन (CoWIN) प्लेटफॉर्म के चीफ डॉ. आरएस शर्मा ने बताया था कि 10वीं का ID कार्ड भी रजिस्ट्रेशन के लिए आइडेंटिटी प्रूफ माना जाएगा।

ऐसा इसलिए क्योंकि कुछ स्टूडेंट्स के पास आधार कार्ड या फिर कोई दूसरा पहचान पत्र नहीं होगा। सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक, 15-18 साल के बच्चों के लिए कोविन के अलावा वेरिफायर/वैक्सीनेटर के जरिए ऑन-साइट भी वैक्सीन स्लॉट की बुकिंग की जा सकती है।

PM मोदी ने वाजपेयी के जन्मदिन पर की थी घोषणा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 दिसंबर,यानी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिन पर 3 जनवरी से 15 से 18 साल तक की उम्र वाले बच्चों को कोरोना वैक्सीन देने की घोषणा की थी। इसके साथ ही PM ने 60+ उम्र वाले ऐसे बुजुर्गों को 10 जनवरी से वैक्सीन की प्रिकॉशन डोज देने की घोषणा की थी, जो कोमॉर्बिटीज के दायरे में आते हैं। साथ ही 10 जनवरी से ही फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी प्रिकॉशन डोज देने का उन्होंने ऐलान किया था।