जयपुर | Deepika Jangir: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानून वापस लेने का फैसला किया है। मोदी सरकार ने इस फैसले पर आपति जताई है ,कंगना ने लिखा कि यह बेहद शर्मनाक और अनुचित है। दिल्ली के बॉर्डर्स पर बैठकर किसान पिछले एक साल से इन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे।कंगना ने इंस्टाग्राम पर स्क्रीनशॉट शेयर कर लिखा, “दुखद, शर्मनाक, बिल्कुल अनुचित। अगर संसद में चुनी हुई सरकार की जगह सड़कों पर लोगों ने कानून बनाना शुरू कर दिया… तो यह भी एक जिहादी राष्ट्र है। उन सभी को बधाई जो इसे इस तरह चाहते थे।

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी को किया बर्थडे विश

“वहीं दूसरे पोस्ट में उन्होंने दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की एक फोटो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, जब देश की अंतरात्मा गहरी नींद में है, तो लट्ठ ही एकमात्र समाधान है और तानाशाही ही एकमात्र संकल्प है… जन्मदिन मुबारक हो प्रधानमंत्री जी।” आज इंदिरा गांधी की 104वीं जयंती है।कंगना के साथ साथ सोनू सूद ने भी कृषि कानून वापसी कहा, यह एक बहुत अच्छी खबर है, गुरु पर्व पर इससे अच्छी खबर कुछ नहीं हो सकती। मैं सभी भारतीय को बधाई देना चाहता हूं।तो वही आपको बतादे 2020 में कंगना ने सरकार के कानून लाने के फैसले का समर्थन किया था। उन्होंने पॉप स्टार रिहाना के बारे में भी ट्वीट किया था, जिन्होंने किसानों के लिए समर्थन दिखाया था।

कंगना ने कहा था, “रिहाना, एक पोर्न सिंगर हैं, वह कोई मोजार्ट नहीं है और न ही उसे कोई शास्त्रीय ज्ञान है। उसकी कोई विशेष आवाज नहीं है। अगर 10 नामी शास्त्रीय गायक एक साथ बैठेंगे, तो वे कहेंगे कि वह गाना भी नहीं जानती। अमेरिकी संस्कृति में, किम कार्दशियन जैसे लोग, जिनके पास अज्ञात करियर हैं, उनके आयकन हैं। वे क्या करते हैं यह कोई नहीं जानता। यह पूंजीवाद का रैकेट है जो युवाओं को भ्रमित कर रहा है। इसी तरह, रिहाना कोई वास्तविक कलाकार नहीं है, वह एक पोर्न गायिका है। जब आपके पास टैलेंट है तो आपको कुछ और करने की जरूरत नहीं है।” इसके तुरंत बाद ही कंगना को ट्विटर से बैन कर दिया गया था।