राजस्थान की सियासी लड़ाई अब हा​ईकोर्ट से पहुंची सुप्रीम कोर्ट, विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा अभी नोटिस दिया ना ही…

0
754

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। प्रदेश की राजनीति में आज 13वें दिन भी घमासान जारी रहा। गहलोत और पायलट खेमें की लड़ाई अब हा​ईकोर्ट से सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार राजस्थान विधानसभा के स्पीकर डॉ. सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी याचिका दाखिल कर दी है। बता दें कि ये सुप्रीम कोर्ट में ये याचिका 24 जुलाई तक कार्रवाही नहीं करने के आदेश के खिलाफ दायर की गई है।

साथ ही विधानसभा स्पीकर के वकील कपिल सिब्बल ने इस अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट से तुरंत सुनवाई की मांग की। लेकिन सीऐआई ने अर्जी पर तुरंत सुनवाई से इंकार कर दिया। सीऐआई ने कहा कि पहले ये मामला रजिस्ट्रार के सामने मेंशन करें। उसके बाद ही कोई कार्यवाही की जाएगी। बहरहाल बता दें कि इससे पूर्व राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने एक पीसी में बताया कि किसी विधायक को नोटिस देने या उसे अयोग्य घोषित करने का अधिकार विधानसभा अध्यक्ष को होता है। जब तक विधानसभा अध्यक्ष इस पर कोई कार्रवाही या कोई निर्णय नहीं लेता, तो ऐसे में अदालत का कोई अधिकार नहीं है कि वो इस मामले में दखल दें। ऐसे में हाईकोर्ट के निर्णय को लेकर वो सुप्रीम कोर्ट में अनुमति याचिका यानि एसएलपी दाखिल करेंगे।

साथ ही विधानसभा अध्यक्ष जोशी ने कहा कि अभी सिर्फ विधायकों को नोटिस दिया गया है, कोई फैसला नहीं लिया गया है। बता दें कि हाल ही में 19 विधायकों को जारी अयोग्यता नोटिस मामले में हाईकोर्ट ने लगातार दूसरे दिन सुनवाई की थी। हालांकि बहस पूरी होने के बाद हाईकोर्ट ने 24 जुलाई तक फैसला सुरक्षित रख लिया। तब तक स्पीकर इन विधायकों के खिलाफ कार्यवाही नहीं कर सकते हैं। इसी के साथ जब तक कोई सुनवाई नहीं हो जाती है त​ब तक पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित 19 विधायकों की सदस्यता बची रहेगी।