Deepika Jangir: उत्तर प्रदेश में सभी राजनीतिक दलों ने कहा है कि आगामी विधानसभा चुनाव कोविड प्रोटोकॉल सुनिश्चित करते हुए समय पर होने चाहिए, चुनाव आयोग ने आज कहा, नए संक्रमणों में स्पाइक के बीच चुनाव होंगे या नहीं, इस पर हवा को साफ करते हुए। चुनाव आयोग ने आज यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा, ”सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने हमसे मुलाकात की और हमें बताया कि सभी COVID19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए समय पर चुनाव कराए जाने चाहिए।” साथ ही उन्होंने कहा कि इस चुनाव में वोटिंग की टाइमिंग के बारे में जल्द ही जानकारी दी जाएगी।

आपको बता दें कि आयोग ने मतदान वाले राज्यों में ओमिक्रॉन के लगातार बढ़ रहे संक्रमण के बीच कोविड -19 स्थिति का आकलन करने के लिए सोमवार को एक बैठक की थी। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण को इन राज्यों में वैक्सीन की दूसरी खुराक के प्रशासन में तेजी लाने के लिए कहा था।उन्होंने कहा, ”राजनीतिक दलों से चर्चा के बाद सभी एसपी, डीआईजी, कमिश्ननर से मिलकर हालात का जायजा लिया गया। इसके बाद सभी नोडल अधिकारियों से चर्चा की गई। सबसे अंत में मुख्य सचिव, डीजीपी और अन्य अधिकारियों से बातचीत की। सभी दलों ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए निश्चित समय पर चुनाव कराने की मांग की। कुछ दलों ने कोविड प्रोटोकॉल के बिना पालन किए होने वाली रैलियों पर चिंता जताई।”

चुनाव आयोग ने यह भी कहा कि कुछ राजनीतिक दल अधिक रैलियों के खिलाफ हैं। उन्होंने कहा कि पूरे प्रोटोकॉल के साथ राज्य में विधानसभा चुनाव कराए जाएंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पांच जनवरी तक फाइनल वोटर लिस्ट सार्वजनिक कर दी जाएगी।