ओडिशा-पंजाब के बाद अब इन राज्यों ने बढ़ाई लॉक डाउन की अवधि…

0
78
LOCKDOWN

मरुधर बुलेटिन न्यूज़ डेस्क। देश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना वायरस की चैन को तोड़ने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में 21 दिन का लॉक डाउन लागू किया। लॉक डाउन की अवधि 14 अप्रैल को समाप्त होने जा रही है। हालांकि, ओड़िशा और पंजाब राज्य ने वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए लॉक डाउन की अवधि बढ़ाने का फैसला लिया है। दोनों राज्यों में लॉक डाउन 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया। जिसके बाद शनिवार को महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल ने भी लॉक डाउन की अवधि को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया है। शनिवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोरोना वायरस के बढ़ते कहर को देखते हुए राज्यों में लॉक डाउन की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ा दी है। इसी बीच शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की। इस बैठक में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉक डाउन आगे बढ़ाने के फैसले पर सहमति दी है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का कहना है कि लॉक डाउन की अवधि 2 सप्ताह तक बढ़ाने का ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इसी तरह कई अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों को केंद्र सरकार के फैसले का इंतजार है।

मिली जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार ने सभी मंत्रियों से सोमवार से कामकाज संभालने और लॉकडाउन खत्म होने के बाद अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की योजना बनाने को कहा है। देश में कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित होने वाला राज्य महाराष्ट्र है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य में लॉक डाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाने का फैसला लिया है । ठाकरे ने कहा अगर आप 30 अप्रैल तक बिना कोई गलती किए सही से रहेंगे तो हम कोरोना से जंग जीत जायेंगे। मुझे पता है घर पर रहकर काम करने में परेशानी हो रही है लेकिन मैं भी घर से ही काम कर रहा हूं। आप भी यही करें। वहीं, ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य में लॉक डाउन की अवधि बढ़ाने का फैसला प्रधानमंत्री मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद लिया गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाया जाएगा। हम सबने इस पर सहमति जताई, इसलिए मैंने राज्य में लॉकडाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाने का फैसला किया।”  बता दें कि, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉक डाउन की अवधि बढ़ाने के लिए सहमति दी है।