डेस्क न्यूज़: दिल्ली सरकार ने यमुना नदी को साफ करने का काम शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संभोदित करते हुए कहा की यमुना नदी लंबे समय से प्रदूषित है और यही कारण है की इसे साफ़ करने में समय लग रहा है। केजरीवाल ने कहा की यमुना नदी की सफाई के लिए छह कार्ययोजना तैयार की गई है और उन पर युद्धस्तर पर काम शुरू हो गया है। अगले चार साल में यमुना नदी पूर्ण तरीके से साफ हो जाएगी। इस पूरे काम का पर्यवेक्षण केजरीवाल खुद करने वाले है।

यमुना

यमुना को इतना गंदा होने में 70 साल लग गए, इसे 2 दिन में साफ़ नहीं किया जा सकता

अरविंद केजरीवाल ने यमुना नदी की सफाई को लेकर अपनी योजना की जानकारी देते हुए कहा की यमुना नदी को इतना गंदा होने में 70 साल लग गए, इसे 2 दिन में साफ़ नहीं किया जा सकता। मैंने दिल्ली के इन चुनावों में लोगों से वादा किया था कि अगले चुनाव तक इसे साफ कर दिया जाएगा। हमने अपना वादा निभाते हुए युद्धस्तर पर सफाई का काम शुरू कर दिया है। हमने इसके लिए छह एक्शन प्वाइंट बनाए हैं और मैं व्यक्तिगत तौर पर इसकी निगरानी कर रहा हूं।

दिल्ली में हमारे पास 600 एमजीडी सीवरेज साफ़ करने की क्षमता; केजरीवाल

CM केजरीवाल ने आगे कहा की यमुना में बिना सफाई किए ही सीवर फेंक दिए जाते हैं। दिल्ली में हमारे पास 600 एमजीडी सीवरेज साफ़ करने की क्षमता है, लेकिन हमें 750-800 एमजीडी की जरूरत है। हम नए सीवर ट्रीटमेंट प्लांट बनाने, पुराने प्लांट्स की क्षमता बढ़ाने और टेक्नोलॉजी बदलने पर काम कर रहे हैं। कई उद्योग-धंधे नालों में कूड़ा फेंकते हैं, इस पर भी शिकंजा कसा जाएगा।

इंडस्ट्रियल वेस्ट पर भी नकेल कसने की तैयारी

अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा की इंडस्ट्रियल वेस्ट के बारे में कागजों में लिखा है कि उसे ट्रीट किया जा रहा है लेकिन हकीकत में इस वेस्ट को बिना ट्रीटमेन्ट के ही फैंका जा रहा है। हम इंडस्ट्रियल वेस्ट पर नकेल कसेंगे। इसके साथ ही दिल्ली के सभी झुग्गी बस्तियों में अलग-अलग शौचालय हैं। कई जगह शौचालय की गंदगी नालियों में डाली जाती है। इस पर भी रोक लगेगी।

दिल्ली में कई लोगों ने सीवर कनेक्शन नहीं लिया; केजरीवाल

कई ऐसे इलाके हैं जहां सीवरेज का जाल बिछा दिया गया है लेकिन कई लोगों ने सीवर कनेक्शन नहीं लिया है और ऐसे लोग अपने घरों की गंदगी नालों में फेंक देते हैं। सीवर कनेक्शन लेने की जिम्मेदारी लोगों की थी लेकिन उन्होंने नहीं ली, अब हमने तय किया है कि हम आपके घर तक सीवर कनेक्शन खुद लगा देंगे।
इसका बहुत कम शुल्क होगा जो पानी के बिल के माध्यम से वसूल किया जाएगा।

केजरीवाल ने आगे कहा कि हमारे मौजूदा सीवर नेटवर्क के सभी डिसिल्टिंग का काम शुरू कर दिया गया है ताकि इसे और मजबूत किया जा सके। इन सबके माध्यम से हमें उम्मीद है कि हम 2025 फरवरी तक यमुना को साफ कर देंगे।

देश में कोरोना फिर पकड़ रहा रफ़्तार; पिछले 24 घंटों में 470 लोगों की मौत, 11 हजार नए मामले

Follow us on:

Facebook

Instagram

YouTube

Twitter