पीएम मोदी का 8 साल पूराना विडियो हमें क्या याद दिलाता है? आइए देखिए…

0
86

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। कोरोना संकट के बीच इन दिनों आम लोगों की जेब पर एक ओर मुसीबत पड़ी है और वो है पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत। बता दें कि देश में लगातार 19वें दिन डीजल की कीमत में बढ़ोतरी हुई। साथ ही सबसे चौकाने वाली बता ये है कि राजधानी दिल्ली में डीजल की कीमत इतिहास में पहली बार पेट्रोल से ज्यादा हो गई है। भारतीय इतिहास में पहली बार डीजल 80 के पार पहुंच गया।

इसी बीच तेल की बढ़ती कीमतों को लेकर जनता में काफी गुस्सा है। वहीं कई पार्टियां मोदी सरकार पर पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर नाराजगी जता रहे है। बहरहाल इसी आइए दिखाते है आपको नरेन्द्र मोदी का 2012 का वो ​विडियो जिसमें वो दिल्ली सरकार की नाकामियों का सबूत देते नजर आ रहे है।

मानते है आज कच्चे तेल की कीमतें बढ़ रही है। लेकिन 2012 से आज भी ये आधे दामों पर है। फिर सवाल ये उठता है कीमतें बढ़ कहां रही है? बढ़ रही है क्यों केन्द्र ने अपना घाटा पूरा करने के लिए एक्साइज ड्यूटी बढ़ा दी है। तो क्या हम इसका मतलव ये समझे कि 2012 की तरह 2020 में भी पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाना केन्द्र सरकार की नाकामी के सबूत है?