अब अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने उठाया एक और बड़ा कदम, जो अन्य देशों के लिए पड़ सकता है भारी!

0
128
trump

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। कोरोना से हाहाकार इस समय दुनिया के हर कोने में सुनाई दे रहा है। कोरोना का कहर इस कदर दुनिया में फैल चुका है कि बड़े बड़े शक्तिशाली देश भी इस पर काबू पाने में असम​र्थ से नजर आ रहे है। बता दें कि चीन के वुहान शहर से उठी इस महामारी से अब तक दुनिया में करीब एक लाख से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी है।

बहरहाल इस बीच बता दें कि कोरोना के कहर से दुनिया के शक्तिशाली देश अमेरिका में भी इसका कहर साफ नजर आ रहा है। कोरोना ने अमेरिका में भी काफी मानव क्षति पहुंचाई है। साथ ही कोरोन का असर अब अमेरिका के आर्थिक व्यवस्था पर भी साफ नजर आने लगा है। अमेरिका भी इस महामारी से निपटने के लिए हर संभव प्रयास करता हुआ नजर आ रहा है। बहरहाल इसी बीच कोविड19 के खतरे को कम करने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हाल ही में एक ओर सख्त कदम उठाया है।

जानकारी के अनुसार अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बाहरी लोगों (अप्रवासन) के अमेरिका में रहने पर अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगाने का एलान किया है। राष्ट्रपति ट्रंप ने ट्वीट कर ऐलान किया कि,अदृश्य दुश्मन के हमले की वजह से जो स्थिति पैदा हुई है, उसमें हमें हमारे महान अमेरिकी नागरिकों की नौकरी को बचाकर रखना है। इसी को मध्यनजर देखते हुए मैं एक ऑर्डर पर हस्ताक्षर कर रहा हूं, जो अमेरिका में बाहरी लोगों के बसने पर रोक लगा देगा। बता दें कि राष्ट्रपति ट्रंप ने कोरोना खतरे के मद्देनजर अमेरिकी नागरिकों की नौकरी बचाने के लिये यह निर्णय लिया है। इसी के साथ यह साफ है कि अब अगले आदेश तक कोई भी विदेशी नागरिक अमेरिका का नागरिक नहीं बन पाएगा और ना ही इसके लिए अप्लाई कर पाएगा। साथ ही कोविड19 का असर अमेरिका के व्यापार पर भी पड़ा है, अब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसपर चिंता जताते हुए कहा है कि हमें अपनी खुद की सप्लाई चेन बनानी होगी जो पूरे देश में एक्टिव रह पाए। हाल ही में अमेरिका ने जर्मनी सहित कई देशों से मदद मांगी। साथ ही अमेरिका ने भारत से भी हाइड्रॉक्सीक्लोक्वीन के लिए भी मदद मांगी है।