राजस्थान राज्यसभा में कांग्रेस को दो, भाजपा को मिली एक सीट, गहलोत ने बीजेपी को बताया लोकतंत्र का हत्यारा…

0
35
ashok gehlot

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। राजस्थान में राज्यसभा चुनावों में खरीद फरोख्त के आरोपों को लेकर चल रही सियासत का शुक्रवार शाम पटाक्षेप हो गया है। राज्यसभा चुनावों की 3 सीटों में से 2 पर कांग्रेस ने विजय हासिल की तो वही एक सीट भाजपा के खाते में आई। कांग्रेस की तरफ से प्रदेश महासचिव केसी वेणुगोपाल और नीरज डांगी का राज्यसभा में जाना तय हो गया है। जबकि भाजपा की तरफ से राजेंद्र गहलोत राज्यसभा पहुंचेंगे। राजस्थान में कांग्रेस की जीत के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यह साबित कर दिया है कि मैनेजमेंट में उनसे बेहतर खिलाड़ी कोई नहीं है। जीत के बाद मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि मैं केसी वेणुगोपाल जी, नीरज डांगी जी को बधाई देना चाहूंगा,बहुत शानदार मतों से विजय प्राप्त हुई है। ये विजय श्रीमती सोनिया गांधीजी व राहुल गांधीजी के नेतृत्व में कांग्रेस की पॉलिसी,प्रोग्राम,प्रिंसिपल की विजय है। मुझे खुशी है तमाम विधायकों ने एकजुट होकर वोट दिए और विजय प्राप्त की।

गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोकतंत्र के हत्यारे हैं, कभी कर्नाटक, कभी मध्यप्रदेश….गुजरात में जो इन्होंने हॉर्स ट्रेडिंग की वो सबके सामने है।प्रदेश में आज का परिणाम सियासत में बहुत बड़ी विजय है, यहाँ बीजेपी वाले जो षड्यंत्र कर रहे थे, उनका पर्दाफाश हो गया है। 

बता दें कि कांग्रेस केसी वेणुगोपाल को 64 वोट मिले वहीं नीरज डांगी को 59 वोट मिले। वहीं भाजपा के राजेंद्र गहलोत को 54 वोट और ओंकार सिंह लखावत 20 वोट मिले। वहीं, भाजपा का एक वोट रिजेक्ट हो गया जबकि दो मतदाता अनुपस्थित रहे। कांग्रेस के खाते में 123 वोट पड़े तो वहीं भाजपा को 74 वोट मिले।