Marudhar Bulletin: 8 दिसंबर को भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 11 जाबांज अफसरों ने असमय ही इस दुनिया को अलविदा कह दिया। इस हादसे के बाद उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही सरकार अगले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ की नियुक्ति के लिए प्रकिया शुरू कर सकती है। लेकिन बड़ा सवाल ये है कि अगला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ कौन होगा। आपको बता दें कि जनरल बिपिन रावत का बतौर सीडीएस कार्यकाल मार्च 2023 तक था। बुधवार शाम को जनरल बिपिन रावत की हेलीकॉप्टर हादसे में मौत की आधिकारिक पुष्टि के ठीक बाद कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्योरिटी (सीसीएस) की बैठक बुलाई गई थी। इस बैठक के ख़त्म होने के साथ ही जनरल बिपिन रावत की जगह अब कौन सीडीएस का पदभार संभालेगा इस के बारे में चर्चा शुरू हो गई। बता दें कि सरकार नए सीडीएस की नियुक्ति के लिए एक छोटा पैनल तैयार करेगी जिसमें सेना, नौसेना और वायु सेना के वरिष्ठ कमांडर शामिल होंगे। पैनल को अंतिम रूप दिया जाएगा और फिर इसे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के पास मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। रक्षा मंत्री द्वारा अनुमोदन के बाद, नामों को कैबिनेट की नियुक्ति समिति द्वारा विचार के लिए भेजा जाएगा जो भारत के अगले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ पर अंतिम निर्णय लेगी। वहीं आपको बता दें कि मौजूदा सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे का नाम अगले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बनने की रेस में सबसे आगे हैं। जनरल नरवणे को उनके समग्र प्रदर्शन के साथ-साथ पूर्वी लद्दाख में गतिरोध से निपटने में सफल होने की वजह से इस पद के लिए चुने जाने की संभावना ज्यादा है। वहीं, थल सेना प्रमुख नरवणे अगले साल अप्रैल में सेवानिवृत्त होने वाले हैं। भारत के अगले सीडीएस कौन होंगे, कब तक उनके नाम का एलान होगा, पूर्णकालिक होंगे या फिर जनरल बिपिन रावत के कार्यकाल के समय तक के लिए होंगे – इस बारे में भारत सरकार की तरफ़ से कोई जानकारी नहीं आई है।