सुप्रीम कोर्ट ने अब केजरीवाल सरकार को लगाई फटकार, जानिए पूरा मामला

0
65

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। देश की सर्वोच्च अदालत में आज दिल्ली सरकार द्वारा कोरोना वायरस रोगियों के उपचार और अस्पतालों में दयनीय स्थिति मामले को लेकर सुनवाई हुई। इस दौरान देश की सर्वोच्च अदालत ने कोरोना रोगियों के शवों के साथ गरिमापूर्ण व्यवहार को लेकर स्वत: संज्ञान मामले में सुनवाई करते हुए दिल्ली सरकार को फटकार लगाई है।

साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा कि आप सच्चाई दबा नहीं सकते और सवाल किया कि, आपने उस डॉक्टर को निलंबित क्यों किया, जिसने आपके अस्पताल की बदहाली स्थिति का वीडियो बनाया था। कोर्ट ने इसके लिए केजरीवाल सरकार को हलफनामा देने का भी आदेश दिया। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा कि जो वीडियो सामने आए हैं, उससे सरकार की लापरवाही साफ झलकती है।

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार से पूछा कि कोरोना से निपटने के लिए अब तक सरकार ने क्या किया है। डॉक्टरों और नर्सों को बचाएं। वे कोरोना वॉरियर्स हैं। आप नहीं चाहते सच्चाई बाहर आए। बहरहाल बता दें कि देश में कोरोना का प्रकोप बड़ी तेजी के साथ आगे बढ़ता जा रहा है। जानकारी के अनुसार देश में कुल मरीजों की संख्या 3 लाख 50 हजार से ज्यादा पहुंच गई है। वहीं इस खतरनाक वायरस से अब तक लगभग 11 हजार से ज्यादा मौत हो चुकी है। वहीं थोड़ी राहत भरी खबर यह है कि अब तक देश में लगभग 1 लाख 86 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं। बता दें कि कोरोना वायरस के कारण ​महाराष्ट्र और दिल्ली की स्थिति बहुत चिंताजनक है।