जयपुर-दिल्ली रेल मार्ग स्थित कोलवा गांव के रेलवे फाटक पर तैनात गेटमैन को फाटक नहीं खोलना उस वक्त भारी पड़ गया, जब एक प्रसूता के परिजनों ने उसकी जमकर धुनाई कर दी। काफी देर तक चले हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद कुछ लोगों ने बीच-बचाव कर मामला शांत कराया। इस दौरान फाटक पर बड़ी तादाद में भीड़ जमा हो गई। दरअसल हुआ यूं कि सोमवार शाम को कुछ लोग एंबुलेंस से एक प्रसूता को कोलवा अस्पताल लेकर जा रहे थे। इस दौरान फाटक बंद मिला। काफी देर इंतजार करने के बाद भी फाटक नहीं खुलने पर एंबुलेंस में मौजूद लोगों ने गेटमैन को अपनी परेशानी बताते हुए फाटक खोलने की गुहार लगाई। करीब 2 घंटे तक प्रसूता की एंबुलेंस के लिए रेलवे फाटक नहीं खुलने से गर्भवती के साथ आए परिजन आक्रोशित हो गए।इस दौरान सबसे पहले एक महिला ने गेटमैन पर शराब के नशे में होने का आरोप लगाया। जहां दोनों में आपस में हुई कहासुनी देखते ही देखते लात-घूंसों में बदल गई। महिला ने गेटमैन की धुनाई शुरू कर दी। वहीं महिला के साथ आए दो युवकों ने भी गेटमैन को जमकर पीटा। इस दौरान गेटमैन के सैकड़ों की संख्या में थप्पड़ और घूंसे व जमकर ठोकर मारी गई। इस दौरान वहां मौजूद लोग भी गेटमैन पर शराब के नशे में होने का आरोप लगाया। और वीडियो जमकर वायरल हो रही है