मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। शहर के बाला फाटक रोड़ पर स्थित नगर विकास न्यास के ग्रीन बेल्ट में करीब 35 लोगों ने जो अपने बनाकर के अतिक्रमण कर लिया। इसके साथ ही इसके रोड़ की तरफ भी लकड़ी के खोके लगा कर के चारों तरफ से अतिक्रमण कर लिया। लगातार मिल रही शिकायतों पर नगर विकास न्यास के अतिक्रमण हटाओ टीम ने मंगलवार को कार्यवाही करते हुए। सभी झोपड़ियों को नष्ट कर दिया और साथ ही अतिक्रमण करने वालों को दोबारा से अतिक्रमण नहीं करने की चेतावनी भी दी। इसके साथ ही टीम ने पशुपालकों को समझाइश करके उनके लिए बनाई गई देवनारायण आवासीय योजना में आवेदन करके वहां शिफ्ट होने की भी बात कही साथ ही उन्हें चेताया भी की शहर में किसी भी तरह से पशुओं को नहीं पाल ने दिया जाएगा।

IMG 20210302 WA0044

यूआईटी के सीआई आशीष भार्गव ने बताया कि माला रोड़ पर यूआईटी की ओर से ग्रीन बेल्ट विकसित की गई थी। अतिक्रमण यहां पर ग्रीन बेल्ट नष्ट करके झोपड़ियां खड़ी कर ली और वहां रहने लग गए शिकायत मिलने पर पहले इन सभी अतिक्रमण करने वालों को चेताया गया। स्वयं हटने के लिए कहा गया। नहीं हटने पर मंगलवार को दो जेसीबी की सहायता से सभी झोपड़ियों को नष्ट कर दिया गया अतिक्रमण हटाने की यह कार्रवाई करीब 10 घंटे तक चली। टीम के सदस्यों ने इसके बाद नंदा की बाड़ी में पशुपालकों से समझाइश की उनसे कहा कि यूआईटी की देवनारायण योजना में आवेदन करके भी अपने पशुओं को वहां ले जाने की तैयारी करें अन्यथा उनके पशुओं को पकड़ कर टायर हाउस में बंद कर दिया जाएगा उनसे कहा कि शहर के अंदर पशुओं को पालने की अनुमति नहीं दी जाएगी इसी प्रकार से मुकुंदरा बिहार में भी अतिक्रम्य से समझाइश की गई। टीम में तहसीलदार राम कल्याण, यादवेंद्र, कैलाश मीणा, पटवारी हरीश गुप्ता, शिव प्रकाश, हरीश प्रजापति सहित अन्य सदस्य शामिल थे।