कानपुर: बालिका संरक्षण गृह में सात लड़कियां हुईं गर्भवती, प्रियंका गांधी और अखिलेश ने साधा योगी सरकार पर निशाना

0
100

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। कोरोना संकट के बीच आज उत्तर प्रदेश के कानपुर से बड़ी खबर सामने आ रही है। जानकारी के अनुसार कानपुर जिले के स्वरूप नगर क्षेत्र में स्थित राजकीय बाल संरक्षण गृह की 56 लड़कियां और एक सुरक्षाकर्मी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इतना ही नहीं कोरोना से बढ़कर सबसे बड़ी खबर यह आ रही है कि यहां 7 लड़कियां गर्भवती हैं। जिनमें 5 कोरोना पॉजिटिव हैं। साथ ही इनमें से एक लड़की एचआईवी पॉजिटिव बताई जा रही है। जैसे ही इस बात की खबर फैली पूरे प्रशासन में हड़कंप मच गया।

इतना ही नहीं मामले पर सियासी पारा भी चढ़ने लगा है। ​कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी से लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव सहित कई पार्टियों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ साथ भाजपा सरकार भी जमकर निशाना साधा। उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष यादव ने सोशल मीडिया के जरिए भाजपा सरकार को घेरा और इस मामलें की जांच की मांग करी। इसके अलावा उन्होंने ट्वीट जरिए बताया कि इस घटना से लोगों में आक्रोश भरा है। सरकार शारीरिक शोषण करने वाले ऐसे दरिंदों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करते हुए जांच करें।

अखिलेश यादव के अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सरकार को आंड़े हाथों लिया। इस शर्मनाक घटना पर दुख जताते हुए इंसाफ की मांग करते हुए कहा कि सरकारी बाल संरक्षण गृहों में बहुत ही अमानवीय घटनाएं घट रही हैं। बहरहाल बता दें कि मामला बढ़ते देख कानपुर जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी ने बताया कि शेल्टर होम की सात लड़कियां गर्भवती हैं, जिसमें से पांच लड़कियां कोरोना पॉजिटिव भी पाई गई हैं। हालांकि, उनका कहना है कि यह लड़कियां शेल्टर होम में लाए जाने से पहले ही गर्भवती थीं।