सिख मेरे बड़े भाई, खालिस्तानी कहना बर्दाश्त नहीं करूंगा: राजनाथ सिंह

0
190

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। देश में इन दिनों केन्द्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों कृषि बिलों को खत्म करने के लिए आंदोलन किया जा रहा है। किसान संगठनों ने देश की राजधानी दिल्ली को चारों तरफ से घेर कर अपनी मांगों को मनाने के लिए आंदोलन करते हुए नजर आ रहे है।

बहरहाल इसी बीच हाल ही में केन्द्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने एक टीवी चैनल के खास कार्यक्रम में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को खालिस्तानी कहे जाने के सवाल का जवाब दिया। रक्षामंत्री सिंह ने कहा कि मैं किसी भी सूरत में अपने सिख किसान भाइयों को खालिस्तानी कहे जाना बर्दाश्त नहीं करूंगा। उनसे पूछा गया कि आपकी पार्टी के कई लोग किसानों को खालिस्तान कर रहे है। इस पर उन्होंने कहा कि ये कतई बर्दाश्त नहीं होगा कि उन्हें खालिस्तानी कहा जाए। मैं उन्हें बड़ा भाई मानता हूं। साथ ही उन्होंन कहा कि देश की संस्कृति को बचाने में जो योगदान सिख समुदाय का है, वो भारत कभी भूल नहीं सकता। सिख समाज के प्रति मेरे मन में बड़ा सम्मान है। हिंदू धर्म का बड़ा भाई खालसा पंथ स्वीकार करता था।

इसके अलावा रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से इस कार्यक्रम के दौरान और भी कई अहम सवाल पूछे गए। साथ ही कार्यक्रम के दौरान उनसे पूछा गया कि क्या 26 जनवरी को किसान संगठन राजपथ पर ट्रेक्टर परेड निकालेंगे तो उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि किसान भाई ​इस समस्या का कोई हल जरूर निकाल लेंगे। वो देश के राष्ट्रीय पर्व को किसी भी प्रकार विफल नहीं होने देंगे। इसके अलावा उन्होंने कोरोना वैक्सीन को लेकर भी देश के वैज्ञानिकों को बधाई दी।