…तो इस कारण पीएम मोदी अचानक पहुंचे लेह साथ ही

0
108

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। भारत चीन की तनातनी के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज अचानक ही सीडीएस विपिन रावत और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ लेह पहुंच गए है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस दौरान सीमा पर अग्रिम मोर्चे नीमू का जायजा लेते हुए जवानों से बातचीत की और उनका मनोबल बढ़ाया।

CoVID19: अगस्त की इस तारीख तक आ सकती है देश की पहली ‘कोवैक्सीन’, 7 जुलाई से शुरू होगा ट्रायल

अचानक से हुए पीएम मोदी के इस दौरे के तहत सेना, वायुसेना के अधिकारियों ने उन्हें जमीनी हकीकत की जानकारी दी और इस दौरान पीएम मोदी ने अधिकारियों के साथ सीधे संवाद भी किए। साथ ही बता दें कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों के बीच पहुंचे, तो वहां पर मौजूद जवानों ने भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगाए। गलवान की झड़प के 18 दिन बाद प्रधानमंत्री मोदी लद्दाख का दौरा कर रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री देश के जवानों का मनोबल बढ़ाने व वर्तमान स्थिति का जायजा लेने लद्दाख पहुंचे हैं।

बहरहाल बता दें कि रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का गुरुवार को लद्दाख जाने का कार्यक्रम था, लेकिन किसी कारणवश उनका दौरा रद्द कर दिया गया। वे शुक्रवार को सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे के साथ लद्दाख जाने वाले थे। बहरहाल बता दें कि 15 जून को भारत और चीनी सेनाओं के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच सैन्य तनाव को खत्म करने के लिए अभी तक तीन बार सैन्य स्तर पर और तीन बार कूटनीतिक स्तर पर वार्ता हो चुकी है। लेकिन अभी तक कोई परिणाम निकल कर सामने नहीं आया है। लेकिन भारत ने भी साफ कह दिया है कि गतिरोध कम करने के लिए चीन को एलएसी से अपने सैनिक पीछे हटाना ही पड़ेगा।