राजस्थान पुलिस सेवा के ब्यावर DSP हीरालाल सैनी के अश्लील वीडियो के बाद अब अजमेर जिले के पींसांगन थाने में कार्यरत तत्कालीन कॉन्स्टेबल की अश्लील मोबाइल चैटिंग सामने आई है। साथ ही कॉन्स्टेबल ने आपत्तिजनक फोटो-वीडियो भी शेयर किए। मामला करीब 9 महीने पुराना है। जब कुछ छात्रों ने थाने में पहुंचकर कॉन्स्टेबल के खिलाफ टहलने के दौरान शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान करने का आरोप लगाया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अब सोमवार को पीसांगन पंचायत समिति सदस्य प्रदीप कुमावत अजमेर ग्रामीण डीएसपी सुमित मेहरड़ा को शिकायत देकर मामले में कार्रवाई की मांग की है। साथ ही छात्रों से अश्लील हरकत करने के भी आरोप लगाए हैं।

पुलिस ने आरोपी कॉन्स्टेबल विक्रमसिंह के खिलाफ पॉक्सो में FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जांच नसीराबाद सदर थाना प्रभारी को सौंपी गई है। आरोपी कॉन्स्टेबल फिलहाल श्रीनगर थाने में पोस्टेड है। अजमेर ग्रामीण CO सुमित मेहरड़ा ने बताया कि पूर्व में दी गई शिकायत इतनी गंभीर नहीं थी, इसलिए मामला दर्ज नहीं किया गया। अब अश्लीलता जैसी गंभीर शिकायत की है। इस पर पुलिस ने तुरंत FIR दर्ज कर ली है।

प्रदीप कुमावत की ओर से दी गई शिकायत में बताया गया है कि छात्रों ने कॉन्स्टेबल पर अश्लील हरकतें करने का आरोप लगाया है। कुमावत ने यह भी कहा कि पूर्व में इसकी शिकायत पीसांगन थाने में की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अब इस मामले में कार्रवाई कर आरोपी को दंडित किया जाए। कुमावत की ओर से आरोपी कॉन्स्टेबल की छात्र के साथ हुई चैटिंग के स्क्रीन शॉट भी शेयर किए गए। स्क्रीन इसमें छात्र को अपने कमरे में बुलाने के लिए दबाव डालने, आपत्तिजनक फोटो शेयर करने जैसी कई बातें सामने आई हैं। ग्रामीणों ने इसकी एक फाइल बनाकर पुलिस को सौंप दी है।