पुलिस की गिरफ्त में आया लॉरेंस बिश्नोई गैंग का गुर्गा, दाऊद इब्राहिम व आनंदपाल को मानता है अपना आदर्श

0
1236

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। भाजपा पार्षद को इस्तीफा देने व 2 लाख रुपये देने की धमकी देने के मामले में ग्रामीण पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए लॉरेंस बिश्नोई गैंग के गुर्गे विशाल उमरावत पुत्र किशोर लाल जाति विश्वकर्मा निवासी रामगंजमंडी हाल बालाजी हॉस्पिटल के पास रंगबाड़ी कोटा को गिरफ्तार किया है। वह फोन के जरिए भाजपा नेताओं को जान से मारने की धमकी दे रहा था। साथ ही लाखों रुपए की मांग कर रहा था। गिरफ्तार बदमाश दाऊद इब्राहिम व आनंदपाल को अपना आदर्श मानता है।

एसपी शरद चौधरी के अनुसार रामगंजमंडी नगर पालिका का पार्षद लोकेश पावेचा पुत्र मोहनलाल जाति अहीर ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि उसे विशाल उमरावल नाम के व्यक्ति ने व्हाट्सएप पर धमकी दी कि या तो मुझे 2 लाख रुपये दे या फिर पार्षद से इस्तीफा दे नहीं तो मैं तुझे गोली मार दूंगा। आज उसने उसके मोबाइल पर स्टेटस लगा रखा है कि 20 जनवरी तक मेरी बात नहीं मानी तो गोली मार दी जाएगी। उसका नंबर चालू है जिससे मुझे वह धमकी दे रहा है उसके मोबाइल नंबर 8949509293 है। उसके व्हाट्सएप नंबर चालू है तथा उसे व्हाट्सएप किया जा रहा है। उसने अपने व्हाट्सएप पर कुख्यात अपराधी दाऊद इब्राहिम का भी फोटो लगा रखा है। इस मामले में भाजपा विधायक मदन दिलावर ने भी पुलिस से मिलकर त्वरित कार्रवाई करने की मांग की थी।

एसपी शरद चौधरी ने बताया कि रिपोर्ट के आधार पर एडिशनल एसपी पारस जैन के निर्देशन में साइबर सेल की टीम को एक्टिव किया गया। इसके बाद पुलिस की ओर से उसके ठिकाने रामगंज मंडी, झालावार, मंदसौर, भानपुरा, झाबुआ, उज्जैन और इंदौर पर दबिश देकर तलाश की मिलने वाले दोस्तों को राउंडअप कर अपराधी के बारे में पूछताछ किए। परंतु टीम को सफलता नहीं मिली। फिर भी टीम लगातार परिश्रम करती रही जिस पर साइबर टीम के सदस्य भूपेंद्र नागर द्वारा किए जा रहे प्रयास से शुक्रवार को पुलिस ने उसे कोटा शहर के रंगबाड़ी इलाके के बालाजी हॉस्पिटल के पास से गिरफ्तार कर लिया। जहां पर वह खुद रहता है। जांच में सामने आया कि अपराधी लॉरेंस बिश्नोई 007 गैंग के गुर्गों के संपर्क था तथा उसके पास हथियार तस्करी व अन्य अपराध कार्य कर रहा था। अपराधी द्वारा किए गए अपराधों के संबंध में अनुसंधान किया जा रहा है। जिसमें अन्य वारदातें खुलासा होने की संभावना है। एसपी शरद चौधरी ने बताया कि आरोपी ने अपने व्हाट्सएप पर दाऊद इब्राहिम का फोटो लगाया हुआ है। वह दाऊद इब्राहिम व आनंदपाल को आदर्श मानता है। इसके अलावा वह फेसबुक पर भी दाऊद इब्राहिम को लेकर कई पोस्ट कर चुका है और उसके जैसा ही बनना चाहता था। अपना नाम कमाना चाहता है। इसके अलावा विशाल उमरावल हाड़ौती में अपराध की दुनिया में बड़ा नाम कमाना चाहता था। इसके लिए बड़ी वारदातें करने की फिराक में था। वह वर्तमान में हाड़ौती में बड़ी वारदात करने की फिराक में था। जिसके लिए हथियार वाहन व अन्य चीजों के पैसों की व्यवस्था हेतु रामगंज मंडी में भाजपा पार्षदों उद्योगपतियों व्यापारियों से पैसे देने की मांग कर रहा था तथा नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दे रहा था। जिससे उद्योगपति व्यापारी में भय का माहौल था। वह पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने से भी कतरा रहे थे। अपराधी भय व्याप्त करने के लिए हथियारों सहित फोटो व अपराधी द्वारा पूर्व में किए गए अपराधों की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर रहा था।

कोई कांड करना हो तो संपर्क करें
विशाल उमरावल ने फेसबुक पेज पर भी बंदूकों के साथ फोटो डाल रखी है। इसके साथ ही फेसबुक पेज पर धमकी देने के अलावा कई अन्य पोस्ट भी की हुई है। जिनके जरिए उसने खौफ आम लोगों में फैलाया हुआ है। उसने अपने फेसबुक पर लिखा है कि ‘कोई डिफॉल्टर काम या कोई कांड करना हो तो मुझसे करें संपर्क’। इसके साथ ही उसने लॉरेंस गैंग के सदस्यों के साथ भी फोटो पोस्ट की हुई है।

कारतूस बनाने में भी पकड़ा गया

आरोपी विशाल उमरावल रामगंजमंडी एरिया का रहने वाला है और कोटा के रंगबाड़ी में किराए से रहता है। उसके खिलाफ पहले से 2 मुकदमे दर्ज हैं, जिनमें एक में फायरिंग करके हत्या का प्रयास और दूसरा कारतूस बनाने का मुकदमा है जो कि आर्म्स एक्ट में दर्ज है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

1 साल पहले मंगाया था लॉरेंस गैंग से हथियार

आरोपी विशाल लॉरेंस गैंग के संपर्क में इंस्टाग्राम के जरिए आया और उनको पैसे का भुगतान कर बंदूक मंगवाई और उसने पैसे के जरिए आगे बेच दिया। इसके अलावा वह झाबुआ, उज्जैन, इंदौर और कई जगह जाता था और वहां से भी हथियार लेकर आता था।

कोटा शहर से चला रहा था नेटवर्क

कोटा के रंगबाड़ी इलाके में यह बदमाश 1 साल से रह रहा था, लेकिन इसके बावजूद भी कोटा शहर पुलिस को इसकी भनक नहीं लगी। वह यहीं से ही नेटवर्क संचालित कर रहा था। पुलिस को आरोपी के पास से हथियार और हथियार चलाते हुए वीडियो भी मिले हैं।