जयपुर|Mahima jain:जैसे -जैसे चुनाव नजदीक आने लगे है वैसे -वैसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तरह -तरह से जनता को लुभाने के तमाम प्रयासो में जुट गए है मंगलवार को कानपुर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने IIT के दीक्षांत समारोह के बाद सीएम योगी के साथ मेट्रो में सफर किया। पीएम ने सफर के लिए टिकट भी खरीदा।आईआईटी से मेट्रो में सवार होकर पीएम-सीएम गीता नगर पहुंचे। इसके बाद कार से निराला नगर पहुंचे। यहीं से पीएम ने कानपुर मेट्रो का उद्घाटन किया।

716898 narendra modi at iit bombay pti 1

IIT के छात्रों से बोले- सहूलियत के लिए शॉर्टकट न अपनाएं

आईआईटी के दीक्षांत समारोह में छात्रों से पीएम मोदी ने कहा कि सहूलियत के लिए शॉर्टकट बहुत लोग बताएंगे। कम्फर्ट मत चुनना, चैलेंज चुनना। जीवन में कठिनाइयां आएंगी जो लोग उससे भागते हैं, वे आगे नहीं बढ़ पाते। लेकिन, ध्यान रहे कि कठिनाइयों से भागना नही है। आप जहां जाएंगे कुछ नया करेंगे। सरकार हर कदम पर आपके साथ है।

IIT के छात्रों से पीएम ने बातचीत में तकनीकी शब्दों का बखूबी इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा, ‘आप लगातार इनोवेशन में लगे रहते हैं। इन सबके बीच टेक्नोलॉजी की दुनिया में रहते हुए ह्यूमन वैल्यू को कभी मत भूलना। रोबोट वर्जन नही बनना है। इंटरनेट पर जरूर काम करें, लेकिन इमोशन को कभी न भूलें। लोगों से जुड़ाव आपके व्यक्तित्व की ताकत को बढ़ाएगा। ऐसा न हो कि जब इमोशन दिखाने का समय आए तो आपके दिमाग कर सर्वर फेल हो जाए और http 404 दिखाए, पेज नॉट फाउंड दिखाई दे।

इससे पहले खराब मौसम के चलते पीएम का हेलिकॉप्टर उड़ान नहीं भर सका। इसके बाद कार से पीएम मोदी का काफिला चकेरी एयरपोर्ट से IIT पहुंचा। एयरपोर्ट पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया।

22 दिनों में पीएम का 7वां दौरा

दिसंबर के 22 दिनों में पीएम का यह 7वां यूपी दौरा है। कानपुर-बुंदेलखंड की यह पहली चुनावी रैली है। इस क्षेत्र की कुल 52 में से 47 सीटों पर काबिज भाजपा के रिकॉर्ड प्रभुत्व को बचाने की कोशिश पीएम मोदी की है। पिछले कुछ समय में इस क्षेत्र में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा कई जनसभाओं को संबोधित भी कर चुके हैं।

क्यों है यूपी इतना खास?
कहते हैं कि दिल्ली का रास्ता यूपी से जाता है। जिन 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव होना है, उनमें यूपी बेहद खास है, क्योंकि यहां विधानसभा की 403 सीटें हैं। वहीं, पंजाब में 117 सीटें, गोवा में 40, मणिपुर में 60 और उत्तराखंड में 70 सीटें हैं। जाहिर है इन सभी राज्यों में सबसे ज्यादा सीटों वाला यूपी ही है। यहां की जीत पार्टी के लिए 2024 के लोकसभा चुनाव पर काफी असर डालेगी