Jaipur: राजस्थान में कोरोना का खतरा एक बार फिर मंडराने लगा है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रशासन भी अब हरकत में आ गया है। गृह विभाग के साथ-साथ अब शिक्षा विभाग ने भी नई गाइडलाइन जारी कर दी है। बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए सरकार अब सतर्क हो गई है। शिक्षा विभाग के द्वारा जारी की गई नई गाइडलाइन के अनुसार अब न तो स्कूलों में प्रार्थना सभाएं होंगी, न कैंटीन खुलेगी। इसके साथ ही अब स्कूल प्रबंधन बच्चों को स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं कर सकेंगे। सभी स्कूलों को ऑनलाइन क्लास चलानी होंगी। वहीं स्कूल स्टाफ को स्क्रीनिंग के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। स्कूल को हर दिन सैनेटाइज करना होगा। इसके साथ ही कोरोना की दोनो डोज लगवाना भी अनिवार्य होगा। सबसे अहम बात 2 गज की सामाजिक दूरी और मास्क लगाना अनिवार्य होगा। सभी स्टूडेंट्स की ओर से अपने माता-पिता या पेरेंट्स से लिखित में अनुमति लेना अनिवार्य होगा। तभी स्कूल में ऑफलाइन पढ़ाई कर सकेंगे। शिक्षा विभाग की नई गाडनलाइन के अनुसार प्रदेश भर के स्कूलों में अब तीन पारियों में पढ़ाई होगी। कक्षा पहली से पांचवी के बच्चों को सुबह 10 बजे से दोपहर 3:45 बजे तक पढ़ने के लिए बुलाया जाएगा। कक्षा 6 से 8 तक के बच्चों को सुबह 10:15 से शाम 4 बजे तक स्कूल बुलाया जाएगा। वहीं, कक्षा 9 से 12 के बच्चों को सुबह 10:30 से शाम 4:15 बजे तक की शिफ्ट में रखा गया है। शिक्षा विभाग की गाइडलाइंस में ये भी साफ कर दिया गया है कि अधिकारी लगातार मॉनिटरिंग करते रहेंगे। स्कूलों में कोरोना गाइडलाइन का पूरा पालन कराया जाएगा। कोरोना प्रोटोकॉल के पालन की मॉनिटरिंग के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाएगा।