राष्ट्रीय मतदाता दिवस : इस कारण हर वर्ष 25 जनवरी को मनाया जाता है लोकतंत्र का ये पर्व!

0
77

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। हर वर्ष की भांति इस बार भी 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जा रहा है। मतदाता दिवस हर भारतीय के लिए बहुत अहम है। लोकतंत्र के इस पर्व को मनाने के लिए आज चुनाव आयोग ने विशेष तैयारी की है। देश की राजधानी दिल्ली में होने वाले इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मुख्य अतिथि होगें।

vote

बता दें कि राष्ट्र के इस खास पर्व पर हर युवा वर्ग को शपथ लेनी चाहिए कि वो अपने राष्ट्र को बनाने में अपनी अहम भागीदारी निभाएं। क्योंकि भारत के प्रत्येक व्यक्ति का वोट ही देश के भावी भविष्य की नींव रखता है। इसलिए हर एक व्यक्ति का वोट राष्ट्र के निर्माण में भागीदार बनता है। इस बार देश 10वां मतदाता दिवस मना रहा है। कई राज्यों में तो मतदाताओं को वोट के लिए जागरूक करने के लिए नुक्कड़, रैली सहित कई कार्यक्रम किए जाते है।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस

लेकिन क्या आप जानते है कि देशभर में हर साल 25 जनवरी को ही मतदाता दिवस क्यों मनाया जाता है। अगर नहीं मालूम तो आइए बताते है ​इस दिन वर्ष 1950 में भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना हुई थी। इसलिए वर्ष 2011 से इसे राष्ट्रीय मतदाता दिवस घोषित किया गया। तभी से इसे एक लोकतंत्र के पर्व के रूप में मनाया जाता है। साथ ही बता दें कि भारत में जितने भी चुनाव होते है। उनको निष्पक्षता से कराने की जिम्मेदारी ‘भारत निर्वाचन आयोग’ की होती है।