मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। नगर परिक्रमा समिति के जीतू शुक्ला, मुकेश शर्मा मुला, नरेंद्र चौधरी, विजय गुबरेड़ा राहुल जाट आदि ने ज्ञापन सौंपकर बताया की कोरोना काल से ही शहर स्थित राधा मदन मोहन जी मन्दिर को दर्शनों हेतु बंद कर दिया था। परन्तु जैसे जैसे प्रसासन की गाइडलाइन आई मन्दिर खुलते गए। परन्तु साल भर बाद जब राज्य सरकार ने गाइडलाइन जारी की प्रदेश भर के अनेकों मंदिर खुल दिये गए। दर्शनों के लिए कैलादेवी मंदिर, बालाजी मंदिर और यहाँ तक की खाटूश्याम जी मंदिर में आयोजित होने वाले मेले को भी अनुमति दें दी गईं है। परन्तु मदन मोहन जी मंदिर में अभी तक दर्शनों हेतु कई छोटे मंदिरों को तो लोगो के लिए दर्शन के लिए नहीं खोला गया है। यहाँ तक की भक्तों को मंदिर में अर्धपरिक्रमा करनी पड़ती है। ऐसी ही अनेकों व्यवस्था हैं जो पूर्ण रूप से पहले की तरह सुचारू की जाए। इसी संबंध में शुक्रवार को जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा और आमजन की इस भक्ति की भावना को नगर परिक्रमा समिति के सदस्यों ने व्यक्त किया। जिस पर जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने सहमति जताते हुए कहा कि बिल्कुल आपकी बात से सहमत हैं और जल्दी एसडीओ साहब इस मसले में देखेंगे और कार्रवाई के लिए जो प्रेषित ज्ञापन था। कलेक्टर ने एसडीओ को प्रेषित करवा दिया और नगर परिक्रमा समिति के सदस्यों को आश्वासन दिया है कि जल्दी आपकी यह मांग है पूरी होगी और पहले की तरह जैसे मदन मोहन जी मंदिर की व्यवस्थाएं थी पहले की तरह से ही कोरोना गाइडलाइन की पालना के साथ सुचारू कर दी जाएंगी।