राजगढ़ (अलवर) कस्बे के नयागांव बोलका मे 30 जून को हुए मर्डर केस में पुलिस ने शातिर अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया। थानाधिकारी विनोद सामरिया ने बताया कि परिवादी महेश कुमार मीना पुत्र मुसद्दी लाल मीना निवासी नयागांव बोलका ने थाना राजगढ़ मे उपस्थित होकर एक रिपोर्ट पेश की कि मै नया गांव बोलका का रहने वाला हूँ। मै और मेरे दोनों बच्चे बाहर रहते हैं। मेरी पत्नी घर पर अकेली रहती है। मुझे मेरे छोटे भाई द्वारा सूचना दी गई कि आपकी पत्नी की सिर व गला घोंट कर हत्या कर दी गई है। मेने मेरी पत्नी को सरकारी अस्पताल में देखा मुझे पता चला की घटना स्थल पर एक रूमाल व बीडी पड़ी हुई थी। हत्या की घटना की सूचना मिलते ही घटनास्थल को सुरक्षित कर फोटोग्राफी की गयी तथा साक्ष्य संकलन हेतु जिला फोरेंसिक टीम, डाँग स्क्काड़, साईक्लोन टीम को मौके पर बुलाया जाकर अहम साक्ष्य संकलित किये गये। उक्त सनसनीखेज हत्या की वारदात के खुलासा हेतु गठित टीम द्वारा वारदात से सम्बंधित गोपनीय सूचना तंत्र बनाया जाकर सूचना संकलित की गयी तथा संदिग्ध शख्सों पर नजर रखी गई तथा तकनीकी मदद एवं टीम के प्रयासों से फरार चल रहे आरोपी बिजेंद्र कुमार मीना पुत्र मनोहर लाल उम्र 47 साल निवासी नयागांव बोलका को बोलका गांव की पहाड़ी से दस्तयाब किया जाकर गहनता से अनुसंधान किया गया। अभियुक्त द्वारा आपसी रंजिश के चलते मृतका बत्तो देवी जो उसके चचेरे भाई महेश की पत्नी थी को रात्रि के समय सोती हुई के डण्डा (लक्कड़) से सिर में वार कर हत्या कर देना स्वीकार किया है। इससे पहले भी अभियुक्त द्वारा घटना से पन्द्रह दिन पहले भी मृतका व परिजन को जान से मारने की धमकी देकर बन्दूक भी दिखाई थी।महानिरीक्षक पुलिस रेंज जयपुर एवं जिला पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम व उच्च अधिकारियों के निर्देशन में थानाधिकारी विनोद सामरिया के नेतृत्व में टीम गठित कर अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया।