ब्रिसबेन में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पटखनी देते हुए 33 साल बाद रचा इतिहास, पीएम मोदी ने दी भारतीय टीम को बधाई

0
372

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। विराट कोहली की अनुपस्थिति के बावजूद भारतीय क्रिकेट टीम ने अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया में इतिहास रचने में कामयाबी हासिल की। बता दें कि चार टेस्ट मैचों की सीरीज का अंतिम मैच ब्रिस्बेन में खेला गया। चौथे टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से धूल चटाते हुए टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। इस तरह से भारत ने लगातार तीसरे साल बॉर्डर-गावस्कर सीरीज पर कब्जा जमा लिया है। भारत ने लगातार दूसरी बार ऑस्ट्रेलिया को उसके ही घर में टेस्ट सीरीज में पटखनी देते हुए इतिहास रचने में सफलता हासिल की।

साथ ही सबसे खास बात यह कि ब्रिस्बेन में 33 साल से ऑस्ट्रेलिया नहीं हारा था, लेकिन युवा टीम इंडिया ने इसको भी मुमकिन कर दिखाया और गाबा के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया की बादशाहत का अंत कर दिया। इतना ही नहीं इस जीत के साथ ही टीम इंडिया टेस्ट चैंपियनशिप की पॉइंट टेबल में एक बार फिर टॉप पर पहुंच गई है। वहीं, टेस्ट रैंकिंग में भी भारत ने ऑस्ट्रेलिया को तीसरे पायदान पर धकेल दिया और 118 अंक के साथ दूसरे पायदान पर मजबूती से कदम जमा लिए हैं।

चौथे टेस्ट में भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने 89 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को मैच जिताया। पहली पारी में उन्होंने 23 रन की पारी खेली थी। उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया। वहीं, ब्रिस्बेन टेस्ट में तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज दोनों पारी में 6 विकेट लिए। दूसरी पारी में उन्होंने 5 विकेट लिए थे, जो उनका बेस्ट प्रदर्शन रहा। बहरहाल बता दें कि कंगारू धरती पर इतिहास रचने में कामयाबी के बाद टीम इंडिया को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोशल मीडिया के जरिए बधाई दी। उन्होंने साथ ही लिखा, भारतीय क्रिकेट टीम की ऑस्ट्रेलिया में जीत से हम सभी बेहद खुश हैं। खिलाड़ियों की विशेष ऊर्जा और जुनून पूरे समय नजर आया। उन्होंने कड़ी मेहनत की, साहस और संकल्प दिखाया। टीम को बधाई और भविष्य के लिए शुभकामनाएं। वहीं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने टीम इंडिया के लिए 5 करोड़ रुपए के बोनस की घोषणा की।