IndvsAus: भारत ने सिडनी में खेला ऐतिहासिक ड्रॉ, भारतीय जांबाजों ने 18 साल पुराना तोड़ा ये बड़ा रिकॉर्ड

0
141

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावसकर ट्रोफी का तीसरा टेस्ट मैच सिडनी में खेला जा रहा था जो कि पांचवें दिन आज सोमवार को ड्रॉ हो गया। इस मैच को ड्रॉ कराने में आर अश्विन और हनुमा विहारी ने बड़ा योगदान दिया। हनुमा विहारी और अश्विन ने 256 गेंदों में नाबाद 62 रनों की पार्टनरशिप की थी।

बता दें कि सिडनी टेस्ट में टीम इंडिया के लिए अंतिम ओवर का खेल शेष था, उससे ठीक पहले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने हार मान ली और इसी के साथ ही भारत ने ऐतिहासिक ड्रॉ खेला। यह ड्रॉ किसी जीत से कम नहीं क्यों कि चोट से जूझती हुए भारतीय खिलाड़ियों ने विषम हालातों में मैच बचाया और सीरीज में बनी हुई है।

बता दें कि तीसरे टेस्ट में भारत को जीत के लिए 407 रन का टारगेट मिला था। भारत ने दूसरी पारी में 5 विकेट पर 334 रन बनाए। जिसमें आर अश्विन 39 और हनुमान विहारी 23 रन पर नॉटआउट होकर पवेलियन लौटे। इससे पहले टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत 97 रनों की अहम पारी खेली। पंत ने 118 गेंदों पर 12 चौके और 3 छक्के लगाए। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा संग चौथे विकेट के लिए 148 रन जोडे़।

वहीँ, भारतीय जांबाजों ने 18 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा। खास बात यह है कि 18 साल बाद भारत ने चौथी पारी में 100 से ज्यादा ओवर बल्लेबाजी की है, इससे पहले लॉर्ड्स में साल 2002 में भारत ने 109.3 ओवर बल्लेबाजी करके 397 रन बनाए थे। तब भारत के लिए अजीत अगरकर ने शतक लगाया था, हालांकि मैच इंग्लैंड ने 170 रन से जीता था।