मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। हाल ही में रविवार को देशभर में छोटे बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई गई। पोलियो खुराक पिलाकर देश को पोलियो मुक्त करना है। लेकिन इसी बीच महाराष्ट्र में स्वास्थ्यकर्मियों ने एक ऐसी शर्मनाक लापरवाही की जो काफी हैरान कर देने वाली है। जानकारी के अनुसार बता दें कि महाराष्ट्र के यवतमाल में स्वास्थ्यकर्मियों ने लापरवाही की हद लांघते हुए 12 बच्चों को पोलियो ड्रॉप की जगह हैंड सेनेटाइजर पिला दिया।

ggg

सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार हाल ही में पिछले रविवार को महाराष्ट्र के एक गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर पल्स पोलियो अभियान चलाया जा रहा था। इस दौरान 12 बच्चों को हैंड सेनेटाइजर पिलाने की घटना सामने आई। जब बच्चों की हालत बिगड़ने लगी और उन्हें उल्टी और बैचेनी होने लगी तो उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

ggg 1

सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार इस मामले में महाराष्ट्र की प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के एक डॉक्टर, एक आंगनबाड़ी सेविका और एक आशा कार्यकर्ता के खिलाफ जांच का आदेश दिया गया है। इसी के साथ बिमार बच्चों के परिजन अब दोषियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाही करने की मांग कर रहे है। जानकारी के अनुसार बता दें कि जिन बच्चों की तबियत बिगड़ी उन सभी बच्चों की उम्र 1 से 5 साल के बीच के हैं। बता दें पांच साल तक के बच्चों के लिए पोलिया ड्रोप जरूरी है।