Marudhar Desk: कोरोना महामारी की तीसरी लहर से लड़ने के लिए राजस्थान भी पूरी तरह तैयार है। तीसरी लहर और कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन से मुकाबले के लिए प्रदेश में आज से कोविड की फ्री प्रीकॉशन डोज लगाई जा रही हैं। हेल्थ वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और कई दूसरी बीमारियों वाले 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को कोविड-19 की प्रीकॉशन डोज लगाई जा रही है। बता दें कि प्रदेश में वैक्सीनेशन के लिए 6500 से ज्यादा सेंटर बनाए हैं। जहां दूसरे एज ग्रुप के साथ 60 प्लस के बुजुर्ग भी वैक्सीनेशन करवा सकते हैं। हालांकि, अलग से 60 प्लस के सेंटर नहीं बनाए गए हैं। वहीं, राजधानी जयपुर में 296 सेंटर बनाए गए हैं। जिनमें जयपुर सेकेंड में 201 और जयपुर फर्स्ट में 96 सेंटर्स बनाए गए हैं। बता दें कि कोविड-19 टीके की प्रीकॉशन डोज Co-WIN ऐप में दर्ज दूसरी खुराक की तारीख से 9 महीने पूरे होने पर दी जा सकेंगी। वहीं, प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थय मंत्री परसादी लाल मीणा ने लोगों से ज्यादा से ज्यादा संख्या में कोविड की प्री-कॉशन डोज लगवाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन और कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर के जरिए ही कोविड जैसी महामारी को मात दी जा सकती है। बता दें कि राजस्थान में भी कोरोना महामारी की तीसरी लहर तेजी से पैर पसारती जा रही है। जिसे देखते हुए सरकार ने कड़ा रुख अपनाया है और प्रदेश में सख्ती करना शुरु कर दिया है। इसके साथ ही लोगों को लगातार बचाव की सलाह दी जा रही है।