बवाल लेकर आया एग्जिट पोल…आप करेगी EVM की पहरेदारी, तो भाजपा का दावा- हमारा वोटर शाम तक वोट डालता रहा

0
474

मरुधर बुलेटिन न्यूज़ डेस्क। दिल्ली में लगभग सभी एग्ज़िट पोल की माने तो आम आदमी पार्टी बड़ी आसानी से बहुमत हासिल कर लेगी एवं अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी हैट्रिक लगायेंगे।

लगभग सारे एग्ज़िट पोल्स दिल्ली में फिर से आप की सरकार बनवा रहे हैं। वहीं एग्ज़िट पोल्स दिल्ली में पिछले चुनावों की तुलना में इस बार बीजेपी की सीटें बढ़ा रहे हैं और जिसमें कांग्रेस का पिछली बार खाता भी नहीं खुल सका था उसे भी इस बार थोड़ा कुछ देते दिख रहे हैं। अक्सर ऐसा कम होता होगा कि सारे के सारे एग्जिट पोल में बहुमत से एक जैसे ही नतीजे आ रहे हो, लेकिन इस बार सब सहमत दिख रहे हैं कि दिल्ली में एक बार फिर अरविंद केजरीवाल की ही सरकार बनेगी, लेकिन याद रहे कि ये एग्जिट पोल के नतीजे हैं, असली नतीजे मंगलवार को आएंगे। लेकिन एग्जिट पोल के नतीजों के बाद दिल्ली में हलचल जरूर बढ़ गई है, जोकि स्वभाविक भी है।

वहीं आप ने शनिवार को कहा कि सभी 30 स्ट्रांग रूम के बाहर अपने कार्यकर्ताओं को तैनात करेगी जहां ईवीएम मशीनें रखी गई हैं। यह मंगलवार तक मशीनों पर कड़ी निगरानी रखगें। एग्जिट पोल के नतीजों को देखते हुए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को कहा कि आप भारी अंतर से दिल्ली विधानसभा चुनाव जीत रही है।

दूसरी ओर भाजपा सरकार में गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली चुनाव को लेकर एक बैठक बुलाई जिसमें दिल्ली के सातों सांसद और दिल्ली बीजेपी के वरिष्ट नेता विजय गोयल, चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर, सह-प्रभारी हरदीप पुरी, नित्यानंद राय मौजूद रहे। बैठक के बाद बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि एग्ज़िट पोल सहित तमाम मुद्दों पर चर्चा की गई और साफ़ किया कि एग्ज़िट पोल ‘एग्जेक्ट पोल’ नहीं हैं एवं विश्वास जताया कि एग्जिट पोल का गणित ठीक नहीं है, ये डाटा शाम 4 से 5 बजे का है। उन्होंने कहा, हमारा वोटर आराम से निकला और शाम तक वोट डालता रहा। हम सरकार बनाने जा रहे हैं। एग्जिट पोल पहले भी गलत होते रहे हैं। बीजेपी कार्यकर्ता मायूस न हों, काउंटिंग वाले दिन पता चलेगा।

दिल्‍ली भाजपा अध्‍यक्ष मनोज तिवारी ने मतदान खत्‍म होने के बाद आए एग्जिट पोल्‍स को सिरे से खारिज कर दिया और अपनी पार्टी की जीत का भरोसा जताया है। मनोज तिवारी ने कहा, ‘ये सारे एग्जिट पोल फेल हो जाएंगे, मेरा ट्वीट सेव कर लीजिए! बीजेपी 48 सीटों के साथ सरकार बनाएगी। कृपया हार के लिए ईवीएम को दोष देने के नए बहाने मत ढूंढिए।’