कांग्रेस के विधायक भरत सिंह ने अपनी ही पार्टी के मंत्री पर लगाए भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप, सीएम को लिखा पत्र….

0
16
CONGRESS

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। कांग्रेस पार्टी के खेमे से बड़ी खबर सामने आ रही है। कांग्रेस पार्टी के विधायक भरत सिंह ने अपनी ही  सरकार के मंत्री पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए हैं। विधायक भरत सिंह ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है। जिसमें कहा गया है कि आप के मंत्री मंडल के एक सदस्य ने तो भ्रष्टाचार की सारी हदें ही पार कर दी हैं। मंत्री इतना भ्रष्टाचार कर रहे हैं कि उनके विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी इस से परेशान हो गए हैं। हालांकि विधायक भरत सिंह ने पत्र में भ्रष्टाचार मंत्री का नाम नहीं लिखा। विधायक से जब मंत्री का नाम पूछा गया तो उन्होंने सिर्फ इतना ही कहा कि जो इस क्षेत्र में काम कर रहा है उसे सब पता है जरूरी नहीं है कि मंत्री का नाम लिया जाए। बता दें कि विधायक भरत सिंह अवैध खनन से लेकर कई अन्य मामलों में अधिकारियों से लेकर मंत्री तक को सवालों के कटघरे में खड़ा कर चुके हैं।विधायक भरत सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लिखे पत्र में कहा किभ्रष्टाचार को रोकने के लिए नौकरी से बर्खास्त कर देने का सुझाव मैंने विधानसभा में भी दिया था। आपने भ्रष्टाचार पर जो बयान दिया था वह स्वागत योग्य है, लेकिन सिर्फ बयान देने से ही कुछ सुधार नहीं होने वाला है। जनता आपसे भ्रष्टाचारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की उम्मीद रखती है। विधायक सिंह ने आगे लिखा कि कोरोना महामारी से तो हम लड़ लेंगे लेकिन भ्रष्टाचार तो प्रजातंत्र को ही भस्म कर देगा। उन्होंने कहा कि अगर मैं यह कहूं कि  राजस्थान की राजधानी में गड़बड़ी हो रही है तो जयपुर कहना जरूरी नहीं है। वैसे ही भ्रष्टाचारी कौन है उसका नाम लेने की भी जरूरत नहीं है। उस क्षेत्र में काम कर रहे सभी लोग भ्रष्टाचारी के बारे में जानते हैं। एक विधायक और नागरिक के तौर पर मेरी जो जिम्मेदारी है मैं वह पूरा कर रहा हूं, भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी या नहीं यह देखना भी मेरा काम नहीं है। भ्रष्टाचार बहुत बड़ी बीमारी है और यह खत्म होनी चाहिए।