अजमेर आज ऐसी खबर सामने आयी है जो आपको सोचने पर मजबूर कर देगी यदि हमारे अंदर कोई भी कमी है तो उस कमी को हटा कर हम कुछ अच्छा अपनी ज़िन्दगी में कर सकते है अजमेर के तोपदड़ा निवासी नितिन के.कृष्णा का आया है वे पानी में 25 फीट की गहराई में जाकर पेंटिंग बना देते हैं। दिव्यांग होने के बाद भी हिंद महासागर में सबसे पहले उन्होंने यह पेंटिंग बनाई थी और अभी एक स्वीमिंगपूल में बनाई है। उनका दावा है कि विश्व में पहली बार ऐसा किसी ने किया है। वे खुद वर्ल्ड रिकॉर्ड का दावा कर रहे हैं। इन सभी से पहले नितिन को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। दिव्यांग होने के बाद भी वे हारे नहीं।
पांच साल की उम्र में एक हादसे के दौरान उनकी हिप जॉइंट ब्रेक हो गया था। एक साल तक वे हॉस्पिटल में रहे और इसके बाद 4 साल तक हॉस्पिटल के चक्कर काटते रहे। इसके बाद भी उनका हिप जॉइंट सही नहीं हो पाया, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। टैटू बनाने से लेकर शूटिंग के में वे हमेशा विजेता रहे। नितिन ने बी.कॉम करने के बाद एम.कॉम, एलएलबी, बीएड और फाइन आर्ट में एमए किया है।