कोरोना टीके: बच्चों के लिए कोवैक्सिन के इस्तेमाल की मंजूरी सितंबर तक मिल सकती है, फेज-2, 3 की ट्रायल के नतीजों का है इंतजार

0
44

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। देश में अब धीरे धीरे कोरोना का ग्राफ नीचे गिरते जा रहा है। दिन प्रतिदिन कोरोना संक्रमित केसों की संख्या कम होने से देशवासियों के लिए थोडी राहत की खबर है। लेकिन इसी बीच अब जानकारी के अनुसार कोरोना की तीसरी लहर आने की खबरें सामने आने से थोडी चिंता बढ़ सकती है और उसमें खबर मिल रही है कि तीसरी लहर का बच्चों पर अधिक असर रहेगा। बहरहाल इसी बीच एक राहत की खबर आ रही है।
सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार कोरोना के स्वदेशी टीके कोवैक्सिन के बच्चों के लिए इस्तेमाल की मंजूरी सितंबर तक मिल सकती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने उम्मीद जताई है। गुलेरिया ने कहा है कि बच्चों पर कोवैक्सिन के फेज-2 और फेज-3 के ट्रायल के डेटा सितंबर तक आ जाएंगे और उसी दौरान बच्चों के लिए वैक्सीन की मंजूरी भी मिल सकती है।

गुलेरिया का कहना है कि फाइजर और बायोएनटेक की वैक्सीन को भारत में मंजूरी मिलने पर यह बच्चों के लिए दूसरा विकल्प हो सकता है। साथ ही कई एक्सपर्ट्स ने कहा था कि भारत में तीसरी लहर में बच्चों के सबसे ज्यादा प्रभावित होने की आशंका है। ऐसे में बच्चों के वैक्सीन को लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं। एम्स दिल्ली और पटना में 2 से 17 साल के बच्चों पर भारत बायोटेक की कोवैक्सिन के ट्रायल किए जा रहे हैं। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने 12 मई को बच्चों पर दूसरे और तीसरे फेज के ट्रायल की मंजूरी दी थी।