अक्षय तृतीया स्पेशल: इस दिन भूलकर भी ना करें ये काम नहीं तो…

0
38
Akshaya Tritiya

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। हिन्दू धर्म में अक्षय तृतीया का बहुत बड़ा महत्व है। इसी दिन शादीयों के अलावा कई शुभ काम ​बिना मुहूर्त के कर सकते है। अक्षय तृतीया बैसाख महीने की शुक्‍ल पक्ष तृतीया को मनाया जाता है और इस बार ये खास पर्व 26 अप्रैल यानी रविवार को मनाया जा रहा है। इस दिन विवाह, वाहन खरीदने और सोना आदि खरीदने के लिए बहुत ही शुभ माना गया है।

लेकिन इस बार हिन्दूओं का ये खास पर्व फीका ही रहा। कोरोना वायरस के कारण जारी लॉकडाउन के कारण इस बार कई शादियों और मांगलिक कार्यों को रद्द करना पड़ रहा है। जिसके चलते इस बार सर्राफा व्यापारियों सहित सभी व्यापारियों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है। बता दें कि देश में तीन मई तक लॉकडाउन लागू है। इसके तहत सभी प्रकार की दु​कान, मॉल आदि बंद है। हालांकि अब मोडिफाइड लॉकडाउन के चलते अब कुछ जरूरत की दुकानों को खोला गया है। बहरहाल इसी बीच आज कुछ ऐसी बातें बताते जो आपको भूलकर भी इस दिन नहीं करना चाहिए। तो आइए जानिए…

बता दें कि आखातीज के दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा का बहुत महत्व है। इस दिन प्रात:काल सभी नित्य कर्मों से निवृत होकर स्वच्छ मन से उनकी पूजा करनी चाहिए। जो भी व्यक्ति सच्चे मन से इनकी पूजा करते है। उसकी जल्द ही सभी मनोकामना पूर्ण होती है। साथ ही आप जानते हो भगवान विष्णु को तुलसी बहुत प्रिय है। इसलिए इस दिन भूलकर भी बिना स्नान किए तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। इसके अलावा इस दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की अलग अलग पूजा नहीं करनी चाहिए। दोनों की साथ पूजा करना इस दिन शुभफल दायी होता है।