मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। भारतमाला परियोजना के तहत तालाबों से मिट्टी उठाओ के संबंध में कांग्रेस विधायक भरत सिंह की आपत्ति के बाद में प्रशासन हरकत में आए हैं। उनके सुझाव के अनुसार तालाबों से पहले अतिक्रमण हटा करके मिट्टी उठाने के लिए योजना बनाई जा रही है। इसी क्रम में उपखंड अधिकारी राजेंद्र ढाबा के नेतृत्व में सोमवार को अधिकारियों की एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें सभी को पाबंद किया गया है कि विधायक के सुझाव अनुसार ही काम करवाया जाए। तहसील क्षेत्र दीगोद में भारतमाला परियोजना के अंतर्गत तालाबो से मिटटी उठाव के सम्बन्ध में क्षेत्रीय विधायक भरत सिंह कुंदनपुर द्वारा जिला कलेक्टर कोटा को पत्र द्वारा अवगत कराया गया था कि मिट्टी उठाव से पूर्व तालाबो का सीमाज्ञान करवाया जाकर अतिक्रमण हटाया जावे। तालाबों की खुदाई इस प्रकार की जावें की तालाबों का स्वरुप नहीं बिगड़े। साथ ही सिंचाई विभाग के पर्यवेक्षण में दिशा निर्देशों के अनुरूप ही तालाब खुदाई करवाने एवं सम्बंधित उपखण्ड अधिकारी उक्त कार्यो का समन्वय करने का सुझाव दिया था।

इस सम्बन्ध में सोमवार 8 फरवरी को कार्यवाहक एसडीओ राजेश डागा की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में तहसीलदार दीगोद, सहायक अभियंता जल संसाधन विभाग, हाईवे निर्माण कंपनी के कर्मचारियों एवं स्थानीय सरपंच के साथ बैठक आयोजित की गई। इसमें विधायक द्वारा दिए गए निर्देशों से अवगत कराया तथा विधायक द्वारा दिए गए निर्देशों से अवगत कराते हुए, निर्देशों के अनुसार ही कार्य करने हेतु पाबंद किया गया। उक्त क्रम में उपखण्ड अधिकारी दीगोद द्वारा दीगोद स्थित दो तालाबो का तहसीलदार दीगोद, सहायक अभियंता जल संसाधन विभाग, हाईवे निर्माण कंपनी के कर्मचारियों एवं स्थानीय सरपंच के साथ मौका निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।