जयपुर धर्म कर्म में विश्वास कर बाबाओं अध्यात्मिक बातों में आ जाती है और यह बाबा धर्म कर्म की आड़ में महिलाओं के शरीर से खेलने से नहीं चूकते ऐसे पाखंडी बाबाओं पर आमजन को और महिलाओं को विश्वास नहीं करना चाहिए और उनसे बच के रहना चाहिए एक ऐसे ही पाखंडी बाबा के चुंगल में फंसी एक महिला के खुलासे के बाद भांकरोटा थाना पुलिस ने तपस्वी बाबा को गिरफ्तार कर लिया है।प्रारंभिक पूछताछ में सामने है कि बाबा ने आश्रम में आने वाली 4 महिलाओं को प्रसाद में भांग मिलाकर खिलाकर महिलाओं को कहता था कि वह भगवान तुम उसे सब कुछ सौप दो और उनके नशे में होने के बाद इन चारों महिलाओं से बाबा ने रेप किया ।भांकरोटा थानाधिकारी मुकेश चौधरी ने बताया कि एक पीड़िता ने मुकुंदपुरा स्थित आश्रम के योगेंद्र मेहता उर्फ तपस्वी बाबा के खिलाफ रिपोर्ट दी थी। उसके बाद से बाबा फरार चल रहा था। पीड़िता की रिपोर्ट के अनुसार उसकी शादी 1998 में जयपुर के बिंदायका इंडस्ट्रियल एरिया में हुई थी। उसके ससुराल के कुल देवता तपस्वी बाबा हैं। बाबा के मुकुंदपुरा आश्रम में उनके परिवार का 25 साल से आना-जाना थापीड़िता के पति भी अक्सर बाबा के पास आश्रम में जाते थे और सत्संग सुना करते थे। बाबा ने उसके पति को कहा कि पूरे परिवार को आश्रम में लेकर आया करो। इसके बाद वह भी पति के साथ आश्रम में जाने लग गई। आश्रम में वह पांच-छह महीने के अंतराल में जाती थी। तीन-चार दिन रुककर आश्रम में सेवा करती थी। कुछ समय तो आश्रम में ठीक चलता रहा, लेकिन बाद में गड़बड़ होने लगी। बाबा महिलाओं को आश्रम में बुलाते और कहते कि मैं ही भगवान हूं। तुम मेरी सेवा करो। सब कुछ गुरु को समर्पण कर दो।पीड़िता का आरोप है कि आश्रम में रोजाना रात को आठ से दस महिलाएं रुकती थीं। उसे एक दिन रात को बाबा ने छत के ऊपर बने कमरे में बुलाया। कमरे में उसे एक गोली दी और कहा कि यह प्रसाद है। बाबा ने कहा कि ईश्वर का ध्यान करो और समर्पण का भाव रख सब कुछ दे दो। गोली खाते ही उसे कुछ नशा होने लग गया। तब बाबा ने दुष्कर्म किया।छह महीने के बाद आश्रम में गई तो बाबा ने बुलाकर दोबारा से दुष्कर्म किया। विरोध करने पर बर्बाद करने की धमकी दी।बाबा की धमकी से डरकर पीड़िता परिवार में किसी को यह बात नहीं बताई। तीन दिन पहले उसके पति 20 साल की बेटी को आश्रम में ले जाने लगे।विवाहिता ने बेटी को आश्रम में ले जाने से मना कर दिया। पति ने उससे आश्रम में नहीं ले जाने की बात पूछी। विवाहिता ने तपस्वी बाबा की पूरी करतूत बता दी। परिवार में बात करने पर पता लगा कि उसकी भाभी व जेठानी से भी बाबा ने डरा-धमका कर दुष्कर्म किया।