आसाराम, फलाहारी बाबा के बाद ढोंगी तपस्वी बाबा का भी दुष्कर्मी बाबा के रूप में नाम जुड़ गया है। जयपुर पुलिस ने दुष्कर्मी तपस्वी बाबा को गिरफ्तार कर लिया है। बाबा के खिलाफ 4 महिलाओं ने दुष्कर्म किए जाने के आरोप लगाए थे। भांकरोटा पुलिस ने पीड़िताओं के मेडिकल व बयानों के आधार पर आरोपी बाबा को गिरफ्तार किया।तपस्वी बाबा खुद को भगवान बताता था। प्रसाद के रूप में भांग की गोलियां खिला देता था। महिलाओं को आश्रम में ऊपर ले जाता था। नशा होने पर महिलाओं को बोलता था कि सब कुछ मुझे समर्पण कर दों। इसके बाद महिलाओं से दुष्कर्म करता था। किसी को बताने पर धमकी भी देता था। भांकरोटा थानाधिकारी मुकेश चौधरी ने बताया कि मुकदमा दर्ज होने के बाद बाबा फरार हो गया था। जांच के बाद योगेंद्र मेहता उर्फ तपस्वी बाबा को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़ित महिला ने रिपोर्ट में बताया कि उसका विवाह 1998 में जयपुर के बिंदायका इंडस्ट्रियल एरिया में हुआ था। उसके ससुराल के कुल देवता तपस्वी बाबा हैं। बाबा का आश्रम मुकुंदपुरा में है। बाबा के आश्रम में उनके परिवार का 25 सालों से आना-जाना हुआ करता था। वहां पर धीरे-धीरे बाबा की गद्दी को योगेंद्र मेहता ने संभाल लिया और तपस्वी बाबा का आश्रम खोल लिया। योगेंद्र मेहता का आश्रम मुकुंदपुरा के अलावा रातल्या सीकर रोड और दिल्ली रोड पर है।