तखतगढ़ (पाली) जिले में सोमवार को एक घर में शादी की खुशियां शोक में बदल गईं। जिस युवती की 18 जुलाई को शादी होनी थी, उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बूढ़े पिता ने बेटी को फंदे पर झूलते देखा तो पिता का दुःख आसमान में पहोच गया । परिवार के हर सदस्य की जुबां पर एक ही सवाल था… ममता ये तूने क्या किया। कोई दिक्कत थी तो एक बार बोल कर तो देखती। यूं फांसी लगाने की क्या जरूरत थी। तखतगढ़ थाने के पावा (मठ) निवासी छोगाराम पुत्र मालाराम सीरवी की 18 वर्षीय बेटी ममता सीरवी ने सोमवार सुबह घर के कमरे में फांसी लगा ली। परिजन उसे उपचार के लिए कोसेलाव अस्पताल ले गए, लेकिन बीच राह में ही उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपने की कार्रवाई की तथा मौत के कारणों की तलाश में जुटी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है ताकि खुदकुशी का कारण पता चल सके। ममता की 18 जुलाई को शादी थी। परिवार उसकी तैयारियों में जुटा था।

e0a4b6e0a4bee0a4a6e0a580 e0a4b8e0a587 13 e0a4a6e0a4bfe0a4a8 e0a4aae0a4b9e0a4b2e0a587 e0a4a6e0a581e0a4b2e0a58de0a4b9e0a4a8 e0a495e0a4be 1

ममता की सगाई दौलपुरा गांव निवासी दूदाराम सीरवी से हो हुई थी। दोनों ही परिवारों में शादी की तैयारियां चल रही थीं

fgcbv 1