रामगढ़ थाने में ग्राम पंचायत जोहडिया पट्टी अंतर्गत नाहरपुर गांव की 12 वर्षीय बालिका की तरफ से रिपोर्ट दर्ज कराते हुए लिखा है कि बालिका के मां-बाप अक्सर मजदूरी करने के कारण घर से बाहर रहते हैं बालिका अपने नाना-नानी और भाइयों के साथ घर में रह रही थी की 29 तारीख की रात करीब 9:00 बजे घर के पीछे बने पशुओं के गवाडे में पशुओं को चारा डालने गई।पिछे से आजाद पुत्र जंबूर खां ने मुंह भींच कर पकड़ लिया। और इसके साथ वसीम और जफ्फा पुरातन रज्जाक ने मुझे काबू में कर धरती पर पटक दिया मैंने बचने की बहुत कोशिश की लेकिन तीनों के आगे मेरी फेस नहीं खाई और उन्होंने बारी बारी से मेरे साथ दुष्कर्म किया उसके बाद मुझे धमकी दी और कहा कि तेरे मां-बाप तो रहते नहीं है यहां पर हम तेरे भाई को और तुझे जान से मार देंगे और तुझे झूठा साबित कर देंगे रात को मैंने डर की वजह से किसी को नहीं बताया फिर दूसरे दिन हिम्मत करके मैंने घर वालों को घटना के बारे में बताया। घटना के वक्त भी मेरे पिताजी ड्राइवर कि नौकरी के चलते घर से बाहर थे ।थाने में रिपोर्ट पेश कर कानूनी कार्यवाही करते हुए रिपोर्ट दर्ज करने को लिखा है।

डीएसपी ओमप्रकाश मीणा ने बताया है कि नाहरपुर गांव की नाबालिक युवती की तरफ से रामगढ़ थाने में मामला संज्ञान में आया है युवती का मेडिकल करा अनुसंधान जारी है।