जयपुर|Mahima jain: चोरो के हौसले दिनों-दिन प्रदेश मे बुलंद हो चले है सी-स्कीम के श्रीगोपाल टावर में बने दस कार्यालयों के एक साथ ताले टूटने का मामला सामने आया है। चोरी को लेकर अशोक नगर थाना में मुकदमा दर्ज कराया गया है। घटना टावर में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई है। इसमें एक व्यक्ति मुंह पर कपड़ा बांधे कार्यालयों के ताले तोड़ते नजर आ रहा है। वहीं कई कार्यालयों में लगे सीसीटीवी कैमरों में भी नकबजन साफ नजर आ रहा है।

एक कार्यालय के सीसीटीवी में चोरी के दौरान ड्रॉअर में से लक्ष्मी व गणेश की चांदी से बनी मूर्ति को चोरी करने से पहले मांथे से लगाया इसके बाद उसे भी लेकर चला जाता है। चोरी के दौरान करीब तीन बजे एक चेतक घटना स्थल के पास से निकलती है। इसके बारे में पहरेदारी कर रहा चोरी फोन पर वारदात को अंजाम देर रहे व्यक्ति को बताता है।

13 07 2021 indore theft 12 7 2021

पुलिस ने बताया कि घटना 26 नवंबर की रात की है। जांच के बाद 30 नवंबर को मुकदमा दर्ज कराया गया है। मुकदमा श्रीगोपाल टावर की पहली से तीसरी मंजिल के बीच बने करीब 10 कार्यालयों के संचालकों ने दर्ज कराया है। सभी ऑफिसों से नकबजन ने केवल नकदी व चांदी का सामान ही चोरी किया है। इसके अलावा किसी अन्य वस्तु को हाथ तक नहीं लगाया, जबकि एक लैपटाप सर्विस सेंटर के भी ताले तोड़ है।

सेंटर संचालक विजय कुमावत ने बताया कि 117 नंबर में उनका कार्यालय है। यहां से नकबजन ने तीन हजार रुपए व चांदी के लक्ष्मी व गणेश की प्रतिमाएं कर लेकर गया है। एक फाइनेंस के कार्यालय में करीब 100 लॉकरों को तोड़ने के बाद उसमें से एक हार्डडिस्क व अन्य सामन चोरी किया है। अलमारी को पूरी तरह तोड़ कर नष्ट कर दिया। पूरी वारदात को अंजाम देने में करीब आधा घंटे का समय लगाया है। थाने में गोविंद बजारा, पंकज मलिक, पंकज टांक, अजय भास्कर सहित अन्य लोगों ने मुकदमे दर्ज कराए है।

सीसीटीवी कैमरे में चोर,

वारदात को अंजाम देने के लिए दो जने आते है। पहले व्यक्ति टावर के नीचे ही खड़ा रहकर चौकीदारी करता है। दूसरा चोरी के लिए अंदर चला जाता है। दोनों आपस में मोबाइल के माध्यम से कनेक्ट रहते है। वारदात को अंजाम देने के दौरान एक बार चेतक मौके से गुजरती है। इस पर नीचे से खड़ा व्यक्ति उसे सचेत कर स्वयं छिप जाता है।

वारदात को अंजाम देने से पहले चोर तीनों मंजिल पर लोगों की तलाशी की है। किसी कार्यालय मे कोई व्यक्ति काम तो नहीं कर रहा या कोई गार्ड व अन्य कोई व्यक्ति तो नहीं है। इसके बाद रात करीब 2:56 बजे से वारदात को अंजाम देना शुरू करता है। इसके बाद 3:26 बजे बाहर निकल जाता है।