सियासी उठापटक के बीच अब गहलोत सरकार पर एक ओर संकट, बसपा ने जारी किया व्हिप कहा कांग्रेस के…

0
765

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। राजस्थान में पिछले कई दिनों से सियासी घमासान जारी है। राजस्थान की सियासी जंग पर आज सुप्रीम कोर्ट में स्पीकर की ओर से दायर एसएलपी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की ओर से दायर एसएलपी पर न्यायाधीश अरूण मिश्रा की अध्यक्षता में तीन सदस्यों की बैंच सुनवाई करेगी। बहरहाल इसी बीच अब राजस्थान की सियासी घमासान के बीच बीच एक नया मोड़ आता नजर आ रहा है।

जानकारी के अनुसार बता दें कि हाल ही में बहुजन समाज पार्टी ने पिछले साल कांग्रेस में शामिल होने के लिए पार्टी छोड़ने वाले छह विधायकों को विधानसभा में शक्तिपरीक्षण के दौरान सत्तारूढ़ पार्टी कांग्रेस के खिलाफ मतदान करने का व्हिप जारी किया है।

बहुजन समाज पार्टी के महासचिव सतीश मिश्रा ने बताया कि राजस्थान में सभी छह विधायकों को अलग अलग नोटिस भेजे गए। साथ ही उन्होंने बताया कि बहुजन समाजवादी पार्टी एक मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय पार्टी है और संविधान की दसवीं अनुसूची के पैरा चार के तहत पूरे देश में हर जगपूरे देश में ह बसपा का विलय हुए बगैर राज्य स्तर पर विलय नहीं हो सकता है। बसपा सुप्रीमो मायावती की ओर से जारी व्हिप जारी किया गया। व्हिप के अनुसार सभी विधायकों को राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस की ओर से लाए जाने वाले विश्वास मत या किसी भी अन्य कार्यवाही के दौरान सरकार के खिलाफ वोट करने को कहा गया है।

साथ ही व्हिप में ये भी बताया ​गया ​है कि अगर अगर कोई भी विधायक पार्टी व्हिप के खिलाफ जाकर वोट करता है तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाए और उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द की जाए। बहरहाल बता दें कांग्रेस आज भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ राजभवनों का घेराव के साथ ही प्रदर्शन करेंगी।