सितंबर माह मनाया जाएगा पोषण के रूप में

0
19

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। जिलेभर में मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य की देखभाल के लिए गुरुवार को एमसीएचएन डे मनाया गया। इस दौरान अच्छे पोषण के लिए आवश्यक बातों की सलाह दी गई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. वीके जैन ने बताया कि जिलेभर में सितंबर माह पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा। जिसके तहत हर गुरुवार को चल रहे एमसीएचएन डे पर विशेष तौर पर पोषण संबंधित चर्चा होगी।

एमसीएचएन डे पर विशेष तौर पर 12 प्रकार की बीमारियों से बचाव के लिए टीकाकरण किया जाता है। इसी के तहत अब पोषण के बारे में भी समझाया गया। जिसकी शुरुआत हो चुकी है। आरसीएचओ डॉ. नरेंद्र कोहली ने बताया कि पोषण माह के दौरान अति गंभीर कुपोषित बच्चों की पहचान की जाएगी। उन्हें उचित इलाज के लिए एमटीसी रेफर किया जाएगा। जिले में अब आने वाले एमसीएचएन डे पर आशा व एएनएम की ओर से सभी बच्चों की एमयूऐसी टेप से स्क्रीनिंग की जाएगी। यदि कोई बच्चा अतिगंभीर कुपोषण की श्रेणी में हो तो उसे कुपोषण उपचार केंद्र भेजा जाएगा।

स्तनपान का बढ़ावा दिया जाएगा

इस दौरान स्तनपान का बढ़ावा दिया जाएगा। इस संबंध में निदेशालय से गुरुवार को ही निर्देश दिए गए है। पोषण माह के दौरान बच्चों को छह माह तक केवल दूध पिलाने का संदेश दिया जाएगा। इसके लिए धात्री महिलाओं को आशा द्वारा घर-घर जाकर भी समझाया जाएगा। वहीं गर्भवती महिलाओं को प्रसव के एक घंटे के अंदर बच्चे को दूध पिलाने के लिए कहा जाएगा। इस दौरान विभिन्न डे पर पोषण संबंधित जागरूकता, एनीमिया, संतुलित आहार व आहार विविधता के बारे में भी जानकारी दी जाएगी।