विरोध और कोरोना के बीच शुरू हुई जेईई मेन की परीक्षा, गहलोत सरकार ने परीक्षार्थियों को दी ये छूट

0
140

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। कोरोना संक्रमण और व्यापक विरोध के बाद आज से देशभर में जेईई मेन की परीक्षा का आयोजन शुरू हो गया है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए परीक्षा केन्द्रों पर विशेष इंतजाम किए गए है। इस परीक्षा के लिए 8.58 लाख पंजीकृत हैं।

बता दें कि जेईई एग्जाम अपने तय शेड्यूल के अनुसार 1 से 6 सितंबर के बीच आयोजित किए जाएंगे। देश की बड़ी परीक्षाओं में से एक जेईई परीक्षा में इस बार की चुनौती कोरोना से बचाव भी है। कोरोना के बीच ये देश में पहली बड़ी परीक्षा जो सरकार के लिए एक चुनौती है।

हालांकि इसके लिए खास प्रबंध किए गए हैं। छात्र भी परीक्षा केंद्रों पर पूरी एहतियात के साथ आए हैं। हर छात्र अपने साथ हैंड सैनिटाइजर लेकर आया है, इसके अलावा छात्र मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के भी निर्देश जारी किए गए। बता दें कि इस परीक्षा का आयोजन 1 से 6 सिंतबर तक होना है। केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा जारी गाईडलाइन का पूरी तरह से परीक्षा केन्द्रों के अलावा बाहर भी पूरा ध्यान परीक्षार्थियों को ही नहीं बल्कि उनके साथ आने वाले अभिभावकों को भी करना होगा।

इसी बीच बता दें प्रदेश में भी जेईई मेन परीक्षा के लिए गहलोत सरकार ने विशेष व्यवस्था की है। ​प्रदेश में जेईई परीक्षा के लिए सरकार ने परीक्षार्थियों को केन्द्रों तक पहुंचने के लिए जेसीटीएसएल और मिनी बसों में नि:शुल्क लाने ले जान की व्यवस्था की गई है। इतना ही नहीं प्रदेश की गहलोत सरकार ने परीक्षार्थियों और उनके साथ आने वाले परीजनों के ठहरने की व्यवस्था की है।